अंशु मलिक ने कुश्ती वर्ल्ड कप में जीता रजत पदक, नरसिंह यादव, रवि दहिया बाहर

0
11


Wrestling World Cup: अंशु मलिक ने जीता वर्ल्ड कप में रजत पदक (साभार- वर्ल्ड कप इंस्टाग्राम)

अंशु मलिक (Anshu Malik) ने पदक जीता, पिंकी कांस्य से चूकी. पुरुष पहलवानों ने किया निराश

नई दिल्ली. युवा पहलवान अंशु मलिक 57 किग्रा वर्ग में रजत पदक के साथ बेलग्रेड में चल रहे कुश्ती विश्व कप में पदक जीतने वाली एकमात्र भारतीय महिला पहलवान रहीं. जूनियर वर्ग में पहचान बनाने के बाद सीनियर वर्ग में खेल रही अंशु ने इस स्तर पर तीन टूर्नामेंटों में अपना तीसरा पदक जीता है. बुधवार रात को हुए खिताबी मुकाबले में अंशु को मालदोवा की अनास्तासिया निचिता के खिलाफ 1-5 से हार झेलनी पड़ी. अंशु ने इसी साल नयी दिल्ली में एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था जबकि जनवरी में रोम में मातियो पेलिकोन टूर्नामेंट में रजत पदक हासिल किया था. अंशु ने 57 किग्रा वर्ग में विश्व चैंपियनशिप की पदक विजेता पूजा ढांडा और अनुभवी सरिता मोर की मौजूदगी के बावजूद इस वर्ग में अपना दावा मजबूत किया है. अंशु की जबर्दस्त जीत भारतीय पहलवान ने अपने अभियान की शुरुआत अजरबेजान की एलयोना कोलेसनिक के खिलाफ 4-2 की जीत के साथ की और फिर क्वार्टर फाइनल में जर्मनी की लॉरा मर्टेन्स को 3-1 से हराया. अंशु ने सेमीफाइनल में रूस की वेरोनिका चुमिकोवा को चित्त किया. एक अन्य भारतीय पहलवान पिंकी भी 55 किग्रा वर्ग के सेमीफाइनल में पहुंची जहां उन्हें बेलारूस की इरीना कुराचकिना के खिलाफ हार झेलनी पड़ी. पिंकी को इसके बाद कांस्य पदक के मुकाबले में रूस की ओल्गा खोरोशावत्सेवा के खिलाफ तकनीकी दक्षता के आधार पर शिकस्त झेलनी पड़ी. सरिता (59 किग्रा), सोनम मलिक (62 किग्रा) और साक्षी मलिक (65 किग्रा) अपने-अपने वर्ग में क्वार्टर फाइनल से आगे बढ़ने में नाकाम रहे. अनुभवी गुरशरणप्रीत ने 72 किग्रा वर्ग के रेपेचेज वर्ग में जगह बनाई लेकिन तकनीकी दक्षता के आधार पर उन्हें येवगेनिया जखारचेनको के खिलाफ शिकस्त झेलनी पड़ी. निर्मला देवी (50 किग्रा) और किरण (76) क्वालीफिकेशन दौर में ही हार गए. निर्मला को पोलैंड की अन्ना लुकासियाक जबकि किरण को कनाडा की एरिका एलिजाबेथ विएबे के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा. ग्रीको रोमन वर्ग में सिर्फ अर्जुन हलाकुर्की ही 55 किग्रा वर्ग के क्वार्टर फाइनल में जगह बना सके जबकि अन्य कोई भारतीय पहलवान क्वालीफिकेशन राउंड की बाधा को भी पार नहीं कर पाया. अर्जुन को किर्गिस्तान के बेलबाई डोर्डोकोव के खिलाफ 5-10 से हार झेलनी पड़ी.नरसिंह यादव और रवि दहिया बाहर नरसिंह यादव विश्व कप कुश्ती के क्वालीफिकेशन दौर में ही हारकर बाहर हो गए जबकि तोक्यो ओलंपिक में जगह बना चुके रवि दहिया को भी शुरू में ही बाहर का रास्ता देखना पड़ा. नरसिंह फ्रीस्टाइल वर्ग के 74 किग्रा में उतरे थे जिसमें भारत ने अभी तक तोक्यो ओलंपिक के लिये कोटा हासिल नहीं किया है. नरसिंह ने अपने प्रतिद्वंद्वी को कड़ी चुनौती दी लेकिन आखिर में उन्हें जर्मनी के ओसमान कुबिले काकिसी से 9-10 से हार झेलनी पड़ी. जितेंदर किन्हा और दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार भी इसी भार वर्ग में हैं. आने वाले दिनों में यह देखना दिलचस्प होगा कि इन तीनों पहलवानों में से कौन ओलंपिक क्वालीफिकेशन प्रतियोगिता में खेलेगा. इस प्रतियोगिता का आयोजन विश्व चैंपियनशिप के स्थान पर किया जा रहा है. जितेंदर इसमें हिस्सा नहीं ले रहे हैं क्योंकि वह स्टार पहलवान बजरंग पूनिया (65 किग्रा) के साथ अमेरिका में अभ्यास कर रहे हैं.
IND VS AUS: विराट कोहली को मिला ‘तोहफा’, टिम पेन उछलते रहे और कर दी ‘गलती’ पिछले साल विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतकर तोक्यो ओलंपिक के लिये क्वालीफाई करने वाले रवि दहिया को हंगरी के गामजागादजी हालिदोव ने हराया. यह रवि के लिये चौंकाने वाले परिणाम है क्योंकि वह कभी आसानी से हार नहीं मानते. नरसिंह और रवि का रेपाशेज राउंड का रास्ता भी बंद हो गया क्योंकि उनको हराने वाले प्रतिद्वंद्वी भी क्वार्टर फाइनल से आगे नहीं बढ़ पाये. इस बीच नवीन कुमार 70 किग्रा क्वार्टर फाइनल में किर्गीस्तान के इस्लामबेक ओरोजबेकोव से जबकि सुमित कुमार 125 किग्रा क्वालीफिकशेन में मोलदोवा के इगोर ओलार से हार गये.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here