अयोध्या राम मंदिर निर्माण में मुस्लिम भी करें कारसेवा, दान दें 11 रुपए: स्वामी प्रबोधानंद गिरि

0
14


स्वामी प्रबोधानंद गिरि ने बड़ा बयान दिया है.

हिंदू रक्षा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष और महामंडलेश्वर स्वामी प्रबोधानंद गिरि (Swami Prabodhanand Giri) ने अयोध्या में बड़ा बयान दिया है. उन्होंने मुसलमानों को राम मंदिर निर्माण में कारसेव करने की बात कही है. 

Krishna Shukla

अयोध्या. हिंदू रक्षा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष और महामंडलेश्वर स्वामी प्रबोधानंद गिरि (Swami Prabodhanand Giri) ने अयोध्या में बड़ा बयान दिया है. स्वामी प्रमोधानंद गिरि ने कहा कि देश के मुसलमानों को यह पहला मौका है कि वह आगे आकर राम मंदिर निर्माण में कारसेवा करें. देश का हर मुसलमान राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण में 11-11 रुपए दान करें. स्वामी प्रबोध आनंद गिरि ने कहा कि हिंदू तो राम मंदिर निर्माण में सहयोग कर ही रहा है. मुसलमान भी आगे आकर राम मंदिर निर्माण में सहयोग करें.

स्वामी प्रबोधानंद गिरि ने कहा कि मुसलमानों को राम मंदिर निर्माण में ज्यादा से ज्यादा 11-11 रुपये दान करना चाहिए. अगर वह ऐसा करते हैं तो सद्भावना का यह उनका पहला कदम होगा. उन्होंने कहा कि  हमारा संघर्ष तो 500 वर्ष का है लेकिन 50 साल तक हम अदालत में मुकदमा लड़ते रहे और बार-बार मुसलमानों से कहते रहे कि मुकदमा वापस ले लीजिए क्योंकि यह राम जन्म स्थान है और जन्म स्थान बदला नहीं जा सकता. स्वामी प्रबोधानंद गिरि महाराज ने कहा कि मुकदमा जीतने के बाद भी हमने खुशी जाहिर नहीं की क्योंकि हम किसी का अपमान नहीं करना चाहते.

ये भी पढ़ें: उत्तराखंड: मसूरी के LBS एकेडमी में कोरोना का कहर, 33 ट्रेनी IAS निकले पॉजिटिवसीएम योगी का बड़ा आदेश

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में लगातार सामने आ रहे जहरीली शराब कांड (Poisonous Liquor Case) से हड़कंप मचा हुआ है. मथुरा, फिरोजाबाद , लखनऊ के बाद अब प्रयागराज  में 6 लोगों की जहरीली शराब पीने से मौत हो चुकी है. मामले में योगी सरकार की तरफ से कार्रवाई भी की गई है. लखनऊ और फिरोजाबाद के आबकारी अधिकारियों को हटाने के साथ ही पिछले दिनों लखनऊ पुलिस कमिश्नर पर भी गाज गिरी. वहीं अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज की घटना के बाद सख्त तेवर अख्तियार कर लिए हैं.

जब्त करें संपत्ति, नीलाम कर बांटें मुआवजा

प्रयागराज में हुई मौतों पर सीएम योगी ने निर्देश दिया है कि जहरीली शराब बेचने वालों पर प्रशासन गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करे. यही नहीं जो भी इस मामले में दोषी पाए जाएं, उनकी संपत्ति को प्रशासन द्वारा जब्त किया जाए और इसके बाद संपत्ति नीलाम कर पीड़ितों को मुआवजा दिया जाए. बता दें जहरीली शराब कांड को लेकर प्रदेश में सियासत भी तेज हो गई है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर योगी सरकार को घेरा है. उन्होंने लिखा है कि यूपी में लखनऊ, फिरोजाबाद, हापुड़, मथुरा, प्रयागराज समेत कई जगहों पर जहरीली शराब से मौतें हुई हैं. आगरा, बागपत मेरठ में जहरीली शराब से मौतें हुई थीं. आखिर क्या कारण है कि कुछ दिखावटी कदमों की बजाय सरकार जहरीली शराब के माफियाओं पर कार्रवाई करने में नाकाम रही है? कौन जिम्मेदार है?



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here