अयोध्या : स्नान कर रहे दंपति से मारपीट की करणी सेना ने ली जिम्मेदारी, कहा- राम की नगरी को नहीं बनने देंगे गोवा

0
9


अयोध्या. उत्तर प्रदेश की धर्मनगरी अयोध्या स्थित राम की पैड़ी पर स्नान कर रहे दंपति से मारपीट के मामले में अब नया मोड़ आ गया है. करणी सेना के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सनी सिंह ने स्वीकार किया है कि करणी सेना के लोगों ने ही राम की पैड़ी पर अश्लील हरकत कर रहे दंपति से मारपीट की थी. पुलिस ने इस मामले में अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

करणी सेना के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सनी सिंह ने स्वीकारा है कि 15 जून को दोपहर 3:30 बजे के आसपास राम की पैड़ी पर करणी सेना के लोगों के साथ बैठक कर रहे थे और उसी दरमियान उन्हें पता चला कि राम की पैड़ी में स्नान कर रहे दंपत्ति अश्लील हरकत कर रहे थे. सिंह ने कहा कि वहां पर बच्चे और महिलाएं भी थी. इस वजह से उन्हें रोका गया. टोकने के बाद भी जब वह नहीं मानें तो उनकी पिटाई की गई. करणी सेना के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने कहा, ‘आवश्यकता पड़ी तो इस तरह के कदम आगे भी उठाए जाएंगे. अयोध्या को गोवा नहीं बनने दिया जाएगा.’

सनी सिंह ने कहा, ‘घटना 15 जून को शाम 3:30 बजे की है. उस दिन करणी सेना की एक आवश्यक बैठक राम की पैड़ी पर थी और इस संपूर्ण मामले में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की आवश्यकता नहीं है. इसकी संपूर्ण जिम्मेदारी करणी सेना लेती है.’ सनी सिंह ने कहा कि लगभग 20 मिनट तक राम की पैड़ी में पानी के अंदर दंपति अश्लील हरकत कर रहे थे और उन्हें रोकने का प्रयास किया गया जब वह नहीं मानें तो इस तरीके का कदम उठाना पड़ा और चेतावनी देते हुए उन्होंने फिर कहा है कि अगर आगे भी इस तरीके का मामला होगा तो इस तरीके का कदम करणी सेना उठाएगी.

करणी सेना के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने मांग करते हुए कहा कि या तो फिर राम की पैड़ी पर पुलिस की तैनाती हो जो देखे कि इस तरीके की वारदात आगे ना हो. अगर इस तरीके की घटना आगे होगी तो जिस तरीके का कदम करणी सेना के लोगों ने उठाया है, हम ऐसा कदम दोबारा उठाएंगे. उन्होंने अपील करते हुए कहा कि यहां पर जो भी आए दर्शन पूजन करें. उनका सब का स्वागत है, लेकिन ऐसा काम ना करें जिससे कि धार्मिक नगरी की शोभा बिगड़े. उन्होंने कहा, यह अयोध्या है. इसे अयोध्या ही रहने दें. गोवा बनाने का प्रयास ना करें.’

सनी सिंह ने इसके साथ ही मांग करते हुए कहा कि अज्ञात के खिलाफ दर्ज किया गया मुकदमा वापस हो. पुलिस की कार्रवाई पर प्रश्न चिह्न उठाते हुए कहा कि अज्ञात के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज किया गया, जबकि पुलिस को चाहिए था कि वह दंपति के खिलाफ मामला दर्ज करे और उनको बताए कि आप धर्म नगरी में आकर इस तरीके की अश्लील हरकत कर रहे हैं, इसलिए आप के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा रहा है.

Tags: Ayodhya News, Lord Ram



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here