अरुणाचल प्रदेश के सीएम पेमा खांडू पर 2000 करोड़ के घोटाले का आरोप, 100 हिरासत में, 25 पर केस दर्ज | Arunachal Pradesh CM accused of 2000 crore scam | Patrika News

0
8


अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू पर बड़ा आरोप लगा है। उन पर 2000 करोड़ रुपए के घोटाले के आरोप के बाद प्रदर्शन कर रहे 100 लोगों पर कार्रवाई की गई है। इस सभी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इनमें से 25 पर UAPA के तहत मामला दर्ज किया गया है।

नई दिल्ली

Published: January 15, 2022 02:29:49 pm

देशभर के पूर्वोत्तर राज्य अरुणाचल प्रदेश से बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल यहां सीएम पेमा खांडू पर 2000 करोड़ रुपए के घोटाले के आरोप के बाद लगातार प्रदर्शन हो रहे है। इसी कड़ी में शनिवार को प्रदर्शन कर रहे 100 लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। यही नहीं 25 लोगों पर यूएपीए के तहत मामला दर्ज किया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक गैरकानूनी गतिविधियां अधिनियम के तहत 25 लोगों पर मामला दर्ज करके उन्हें 12 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

अरुणाचल प्रदेश के आदिवासी युवा समूह ऑल न्याशी यूथ एसोसिएशन ने सीएम पेमा खांडू पर 2,000 हजार करोड़ रुपए के सरकारी फंड के घोटाले का संगीन आरोप लगाया था। खास बात यह है सीएम पर लगे इस आरोप के मामले को लेकर एक याचिका सुप्रीम कोर्ट में भी लगाई गई थी। लेकिन शीर्ष अदालत ने इस याचिका को खारिज कर दिया। ऐसे में याचिका खारिज होने के बाद एसोसिएशन की ओर से 36 घंटे की हड़ताल बुलाई गई थी। इस हड़ताल को सरकार ने अवैध करार दिया और इसी हड़ताल के बाद प्रदर्शन के दौरान 100 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

यह भी पढ़ेँः अरुणाचल प्रदेश में शहीद हुआ एमपी का जवान

सख्त मनाही के बाद भी हुई हड़ताल

खांडू सरकार ने एसोसिएशन की हड़ताल को रोकने की लिए सख्त निर्देश दिए थे। यही नहीं इस हड़ताल को अवैध भी करार दिया गया। ईटानगर समेत कई क्षेत्रों में इंटरनेट भी बंद कर दिया गया। इसके बावजूद हड़ताल हुई।

पुलिस को हिंसा का डर

वहीं इस मामले में पुलिस का कहना है कि जिन 100 लोगों को हिरासत में लिए गया उनके पास से गुलेल और खंजर जैसे हथियार मिले हैं। जो बताता है कि प्रदर्शनकारी हिंसा करने की तैयारी में थे। पुलिस का कहना है कि हड़ताल और विरोध रैली से राज्य में अव्यवस्था फैलाने के साथ ही सांप्रदायिक हिंसा की साजिश रची जा रही थी। यही वजह है कि सुरक्षा और शांति बनाए रखने के लिए पुलिस की ओर से कार्रवाई की गई।

यह भी पढ़ेंः अरुणाचल प्रदेश के युवाओं को सेना में भर्ती करने की कोशिश में जुटा चीन

प्रदेश की राजधानी ईटानगर क्षेत्र के उपायुक्त तालो पोटोम के मुताबिक फिलहाल स्थिति शांतिपूर्ण है। किसी भी तरह की अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। बंद के ज्यादातर आयोजकों को पुलिस ने या तो हिरासत में लिया है या फिर गिरफ्तार कर लिया है।

उपायुक्त तालो ने बताया कि सीधे तौर पर शामिल पाए गए लोगों पर अरुणाचल प्रदेश गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम, 2014 की धारा 3 के तहत आरोप लगाया गया था।

अगली खबर





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here