आईआईटी कानपुर का कमाल बनाई पानी को शुद्ध करने वाली बनाई अनोखी डिवाइस,मात्र 2 रुपये में देगी 1 लीटर स्वच्छ पानी 

0
17


रिपोर्ट :- अखंड प्रताप सिंह ,कानपुर

आईआईटी कानपुर में तैयार डिवाइस अब मात्र ₹2 में 1 लीटर स्वच्छ पानी आम लोगों तक पहुंचाएगी.देश भर में आज भी लोगों को पीने का स्वच्छ पानी नहीं मिल पाता है.लेकिन अब ऐसा नहीं होगा क्योंकि आईआईटी कानपुर ने अमेरिका की एमआईटी इंस्टिट्यूट के साथ मिलकर एक ऐसी खास डिवाइस तैयार की है.जो गंदे पानी को साफ करने का काम करेगी और इसमें खास बात यह है कि इसकी लागत बेहद कम है.इसकी मदद से सिर्फ ₹2 की लागत में 1 लीटर पानी को साफ किया जा सकेगा.इस डिवाइस के लिए आईआईटी कानपुर को यूएसए की एमआईटी इंस्टीट्यूट के साथ पेटेंट भी मिला गया है.

देशभर में कई राज्यों और शहरों में अभी भी लोगों को पीने के पानी के लिए संघर्ष करना पड़ता है.स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता देश ही नहीं विदेश में भी प्रमुख समस्याओं में से एक है.अनुमानित 844 मिलियन लोगों के पास पानी के बेहतर स्रोत तक पहुंच नहीं है और यह अनुमान लगाया गया है कि 2025 में, वैश्विक आबादी का आधा हिस्सा उच्च जल तनाव वाले क्षेत्रों में रहेगा.दुनिया भर में जल प्रणालियों के सभी स्रोतों में ट्रेस प्रदूषक (सूक्ष्मजीव जो खाद्य प्रणाली में प्रवेश कर सकते हैं) पाए गए हैं जो कि कैंसर, यकृत और गुर्दे की क्षति के साथ-साथ पर्यावरणीय क्षति सहित कई पुरानी, अक्सर लाइलाज स्वास्थ्य स्थितियों से जुड़े हैं.इस प्रकार इन प्रदूषकों की बढ़ती उपस्थिति गंभीर चिंता का विषय है.इस समस्या को हल करने के लिए आईआईटी (IIT) कानपुर और MIT, USA की टीम ने उपकरण विकसित किया है.इसका उद्देश्य जल शोधन पोत प्रौद्योगिकी बनाकर जल उपलब्धता और जल गुणवत्ता निगरानी दोनों चुनौतियों को दूर करना है.

आईआईटी कानपुर के पृथ्वी विज्ञान विभाग के प्रोफ़ेसर इंद्र शेखर सेन ने बताया कि आईआईटी कानपुर ने अमेरिका की एमआईटी इंस्टिट्यूट के साथ मिलकर यह खास डिवाइस तैयार की है.यह डिवाइस गंदे पानी को साफ करने का काम करेगी और पानी में मौजूद खतरनाक वायरस,प्रदूषण के कणों को खत्म कर पानी को स्वच्छ बनाएगी.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here