आगरा : बेटा मोबाइल पर खेल रहा था गेम, पिता के बैंक खाते से कट गए 39 लाख रुपये

0
10


आगरा. ताजनगरी आगरा में एक बेटा अपने पिता के मोबाइल में गेम खेल रहा था, जिस कारण पिता के खाते से 39 लाख रुपये कट गए. पिता को जब इसकी जानकारी हुई तो उनके होश उड़ गए और उन्होंने इसकी शिकायत साइबर साइबर रेंज में की. पुलिस ने इस संबंध में मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है.

दरअसल आगरा के खंदोली क्षेत्र के रहने वाले सेवानिवृत फौजी ने एक महीने पहले साइबर रेंज में एक प्रार्थना पत्र दिया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि उनके खाते से फ्रॉड करके 39 लाख रुपये निकाल लिए गए हैं. इतनी मोटी रकम कैसे निकली इसकी जानकारी उन्हें नहीं है. उन्होंने इसे लेकर बैंक से भी संपर्क किया, जहां से पता चला कि पहले रकम पेटीएम से कोड़ा पेमेंट में गई, उसके बाद सिंगापुर के बैंक खाते में रकम ट्रांसफर की गई है.

क्रॉफ्टन कंपनी का है खाता
रकम सिंगापुर के जिस बैंक खाते में ट्रांसफर की गई है, वह खाता क्रॉफ्टन कंपनी का है. यह वही कंपनी है जो कि बैटल ग्राउंड्स मोबाइल इंडिया के नाम से ऑनलाइन गेम खिलाती है, जो कि भारत में भी काफी प्रचलित हुआ था. इस संबंध में कंपनी के खिलाफ आईटी एक्ट और धोखाधड़ी में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

गेमिंग फ्रॉड का यह पहला मामला नहीं
आगरा शहर में बैंक खाते से रकम का अपने आप ट्रांसफर हो जाने का यह पहला मामला नहीं है. इससे पहले भी कई मामले प्रकाश में आए हैं, जिसमें मोबाइल पर गेम खेलते समय बैंक खाते से मोटी रकम कट गई. बीते दिनों हरिपरवात क्षेत्र के एक व्यापारी के खाते से भी 30 लाख रुपये कट गए थे. उनका बेटा अपने पिता के मोबाइल में गेम खेलता था. इसके अलावा कई अन्य व्यापारियों के खाते से भी रकम कट गई है, जिसके संबंध में व्यापारियों ने पुलिस से शिकायत की थी, जिसमें जांच चल रही है.

बच्चों को अकेले में गेम खेलने के लिए न दें मोबाइल
इन मामलों को लेकर एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने कहा कि बच्चों को नहीं पता रहता है कि ऑनलाइन गेम के साथ ही आज कल ऑनलाइन पेमेंट का ट्रांसजैक्शन बहुत आसान हो गया है. कई बार गेम में सुविधाएं बढ़ाने के लिए रुपयों की मांग भी की जाती है. जब बच्चे गेम में सुविधाएं बढ़ाने के लिए ओके करते हैं तो,अपने आप ही रकम कटने लगती है. यही कारण है कि खाते से बड़ी मात्रा में रकम कट जाती है. इसलिए बच्चों को अकेले में गेम खेलने से रोके. इसके साथ ही माता-पिता भी इस बात पर नजर रखें कि उनके बच्चे कौन सा गेम खेल रहे हैं.

मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही
वहीं साइबर रेंज थाना प्रभारी आकाश सिंह ने कहा कि एक रिटायर्ड फौजी के द्वारा तहरीर दी गई थी, जिसके आधार पर क्रॉफ्टन कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी और आईटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. पूरे मुकदमे की विवेचना की जा रही है. सबूत इखट्टा करने के बाद कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Agra news, Android Games, Battlegrounds Mobile India



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here