आजमगढ़: बसपा नेता के जुलूस में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद का नारे, पुलिस महकमे में मचा हड़कंप

0
11


हाइलाइट्स

आजमगढ़ जिले में एक बार फिर देश विरोधी गतिविधि की खबर सामने आई है.
चुनाव प्रचार के दौरान पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए जाने का मामला सामने आया.

आजमगढ़. उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ जिले में एक बार फिर देश विरोधी गतिविधि की खबर सामने आई है. दरअसल जब आजमगढ़ की गलियों में बहुजन समाज पार्टी के कुछ पदाधिकारी निकाय चुनाव का बिगुल फूंकते हुए प्रचार कर रहे थे. तभी पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए जाने का मामला सामने आया. अब देश विरोधी नारे का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने लगा है, जिसके बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है. आनन-फानन में पुलिस घटना की छानबीन में जुट गई है. पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को हिरासत में लिया है.

बता दें, गुरुवार को बहुजन समाज पार्टी की मासिक बैठक आयोजित थी, जिसमें नगर पंचायत चुनाव पर चर्चा की गई. इस बैठक में जिसमें काफी संख्या में बसपा पार्टी के कार्यकर्ता व नेता शामिल हुए थे. इसी बैठक में नई बनी नगर पंचायत जहानागंज के चेयरमैन पद के प्रत्याशी पप्पू खान भी अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ पहुंचे थे.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो 

मिली जानकारी के अनुसार बैठक समाप्त होने पर चेयरमैन पद के प्रत्याशी अपने समर्थकों के साथ-साथ कस्बे की गलियों से गुजर रहे थे. नेता जी आगे-आगे चल रहे थे तो वहीं पीछे पार्टी का झंडा लिए समर्थक नारेबाजी कर रहे थे. इसी दौरान पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए, जिसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने लगा. पाकिस्तान जिंदाबाद का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. पुलिस ने प्राथमिक जांच के बाद चेयरमैन पद के प्रत्याशी व एक समर्थक को हिरासत में लिया है.

केस दर्ज कर की जा रही कार्रवाई 

वहीं इस मामले में पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि आपत्तिजनक नारा लगाने का मामला संज्ञान में आया है. पुलिस छानबीन में जुट गई है. पप्पू खान के समर्थन में बैठक आयोजित थी. पप्पू खान और नारा लगाने वाला खुर्शीद अहमद उर्फ शिब्ली पहलवान को भी हिरासत में लिया गया है. पुलिस अधीक्षक ने कहा कि इस मामले में केस दर्ज कर आगे की जांच की जा रही है. जांच के बाद अन्य दोषियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जायेगी.

गुड्डू जमाली ने दी सफाई 

वहीं बहुजन समाज पार्टी के पूर्व विधायक शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली का कहना है कि वह बाद में पहुंचे थे. वीडियों को हमने भी देखा है. इसमें कुछ लोग किसी साबिर प्रधान के बारे में नारा लगा रहे है. उन्होंने कहा कि बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ता अनुशासन में बंधे होते हैं. वह ऐसा कृत्य नहीं कर सकते हैं. यह भी हो सकता है कि किसी ने वीडियो को साजिश के तहत संपादित किया हो या जुलूस आगे चल रहा हो और टारगेट कर नारा लगा वीडियो बना लिया गया हो.

Tags: Azamgarh news, Pakistan Zindabad slogan, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here