आजमगढ़ में बेखौफ बदमाश, बरामदे में बैठी महिला पर दिन दहाड़े बरसा दीं गोलियां

0
30


हाइलाइट्स

महिला घर के बरामदे में बैठी थी, बदमाश आए और गोलियां चला दीं.
2014 में पति की कर दी गई थी हत्या.

आजमगढ़. उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के देवगांव कोतवाली क्षेत्र के गोसाइगंज गांव में बदमाशों ने एक महिला पर दिन दहाड़े गोलियां बरसा दीं. महिला का कसूर सिर्फ इतना था कि वह अपने पति की हत्या की पैरवी कर रही थी. हौसला बुलंद बदमाश दिन दहाड़े आए और घर के बरामदे में बैठी महिला पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर फरार हो गए. घायल महिला को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां चिकित्सकों ने हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया. वहीं, सूचना के बाद पुलिस घटना की छानबीन करने के साथ ही बदमाशों की तलाश में जुटी हुई है.

घर आए और मारकर चले गए
जानकारी के अनुसार, देवगांव कोतवाली क्षेत्र के गोसाइगंज गांव निवासी धारा देवी 45 वर्ष पत्नी स्वर्गीय अशोक गिरी उर्फ पप्पू अपने घर के बरामदे में दोपहर को बैठी हुई थी. इसी दौरान बदमाश वहां पहुंचे और धारा देवी को लक्ष्य कर फायरिंग करना शुरू कर दिया. इस कारण धारा देवी घायल हो गई, जिसके बाद आनन-फानन में परिवार वाले उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लालगंज ले गए. यहां से प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया.

2014 में कर दी गई थी पति की हत्या
घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस महकमे में हडंकप मच गया. आनन फानन में मौके पर भारी पुलिस फोर्स के साथ आला अधिकारी मौके पर पहुंचे. अब निशानदेही पर बदमाशों की तलाश की जा रही है. बताया जा रहा है घायल हुई महिला धारा देवी के पति की वर्ष 2014 में पुरानी अदावत के कारण गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. आशंका जताई जा रही है कि पति की हत्या की पैरवी करने के कारण ही बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया है, फिलहाल पुलिस हर दृष्टि से मामले की जांच कर रही है.

Tags: Azamgarh crime news, Firing, Uttar Pradesh Police



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here