आधार कार्ड में नाम की जगह लिख दिया ‘मधु का पांचवां बच्चा’, स्कूल ने एडमिशन देने से किया मना

0
24


बदायूं. यूपी के बदायूं जनपद में आधार कार्ड (Aadhar Card) को लेकर एक अनोखा मामला सामने आया है. दरअसल प्रदेश सरकार ‘स्कूल चलो अभियान’ को लेकर लगातार भरपूर प्रयास कर रही है, लेकिन सरकारी मशीनरी की हालत यह है कि उनकी गलतियों की वजह से बच्चों को स्कूल में एडमिशन लेने में भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. यह मामला बिल्सी तहसील के गांव रायपुर बुजुर्ग का है, जहां एक बच्ची के आधार कार्ड में आधार कार्ड बनाने वालों ने नाम की जगह ‘मधु का पांचवां बच्चा’ दर्ज कर दिया.

दरअसल जब बच्‍ची की मां मधु अपने पति दिनेश के साथ उसका एडमिशन करवाने प्राथमिक स्कूल में पहुंची तब उन्‍हें पता चला कि आधार कार्ड में गलती है. वहीं, स्‍कूल की शिक्षिका ने बच्‍ची को स्कूल में एडमिशन देने से इनकार कर दिया. इसके साथ बाद यह आधार कार्ड वायरल होकर चर्चा का विषय बन गया है.

आधार कार्ड देख शिक्षिका रह गई सन्‍न
यह पूरा मामला बदायूं के बिल्सी तहसील क्षेत्र अंतर्गत ग्राम रायपुर बुजुर्ग का है. गांव की रहने वाली मधु और उसका पति दिनेश अपनी बच्ची का एडमिशन करवाने प्राथमिक स्कूल गए थे. इस दौरान शिक्षिका ने उनसे एडमिशन से पूर्व आधार कार्ड मांगा. आधार कार्ड देखकर शिक्षिका भी सन्न रह गई, क्योंकि बच्‍ची के नाम की जगह लिखा हुआ था ‘मधु का पांचवां बच्चा’. इसके बाद शिक्षिका ने परिजनों से आधार कार्ड की त्रुटि ठीक करवाकर लाने को कहा. वहीं, इसके बाद बच्ची के माता-पिता इस आधार कार्ड को लेकर कई जगह गए और इसके बाद यह चर्चा का कारण बन गया है.

बच्‍ची की मां ने कही ये बात
वहीं, पूरे मामले पर बच्चे की मां मधु का कहना है कि मैं अपने बच्ची का एडमिशन करवाने सरकारी स्कूल में गई थी. वहीं, जब मैडम ने आधार कार्ड देखा था, तो वो हंस पड़ीं और मुझे उसे ठीक कराकर लाने को कहा था. वैसे मधु चाहती है कि उसकी बच्ची खूब पढ़े लिखे. बहरहाल, बच्‍ची का परिवार काफी गरीब है और झोपड़ी में रहकर जीवन यापन कर रहा है. हालांकि मधु और उसका पति दिनेश अपने बच्चों को पढ़ाना चाहते हैं, ताकि आगे चलकर हालात सुधर सकें.

आपके शहर से (बदायूं)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Aadhar card, Badaun news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here