इंसाफ की मांग, उत्‍तराखंड की निर्भया के माता-पिता ने की सुप्रीम कोर्ट में अपील

0
20


उत्तऔराखंड की निर्भया के माता पिता ने की सुप्रीम कोर्ट में अपील

उत्‍तराखंड की निर्भया के बूढ़े माता पिता बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए भटक रहे हैं. निर्भया मामले में हाईकोर्ट ने 2014 में ही फांसी की सजा सुना दी थी लेकिन मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया. ऐसे में अब मामले की जल्‍दी से जल्‍दी सुनवाई करने और दोषियों को फांसी देने की मांग के साथ ही अपील दाखिल की गई है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 22, 2020, 6:18 PM IST

नई दिल्‍ली. उत्‍तराखंड की निर्भया के माता पिता ने बेटी को जल्‍द इंसाफ दिलाने के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. सामूहिक दुष्‍कर्म सहित हत्‍या, अपहरण और सबूत मिटाने की धाराओं में दोषी ठहराए गए तीनों अपराधियों को जल्‍द से जल्‍द सजा दिलाने की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर की गई है.

सामाजिक कार्यकर्ता योगिता भयाना के साथ मिलकर सुप्रीम कोर्ट पहुंचे किरण के माता-पिता ने सुप्रीम कोर्ट से इस मामले की सुनवाई जल्‍द से जल्‍द करने की अपील की है. योगिता भयाना ने बताया कि यह मामला भी दिल्‍ली की निर्भया जितना ही वीभत्‍स और दरिंदगी भरा था लेकिन अभी तक दोषियों को फांसी नहीं मिली है. उत्‍तराखंड की निर्भया के बूढ़े माता पिता बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए भटक रहे हैं. निर्भया मामले में हाईकोर्ट ने 2014 में ही फांसी की सजा सुना दी थी लेकिन मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया. ऐसे में अब मामले की जल्‍दी से जल्‍दी सुनवाई करने और दोषियों को फांसी देने की मांग के साथ ही अपील दाखिल की गई है.

बता दें कि बेहद निर्दयतापूर्वक सामूहिक दुष्‍कर्म के बाद मौत के घाट उतारी गई निर्भया के तीनों आरोपियों को फास्‍ट ट्रैक कोर्ट ने दोषी करार दिया था. इन तीनों अपराधी राहुल, रवि और विनोद ने न केवल निर्भया के साथ सामूहिक दुष्‍कर्म किया बल्कि उसकी आंखों में तेजाब और योनि में कांच की टूटी बोतल डालकर उसके साथ बर्बरता की थी. चार दिनों तक दर्द से तड़पने के बाद निर्भया की मौत हुई थी.


<!–

–>

<!–

–>


! function(f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function() {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
};
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
}(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here