उग्र हुआ इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में फीस वृद्धि का आंदोलन, आत्मदाह की कोशिश, एक ने खाया जहर

0
14


हाइलाइट्स

फीस वृद्धि के खिलाफ 15 दिनों से चल रहा आंदोलन
छात्रों ने मंगलवार को आत्मदाह की कोशिश की
पुलिस ने किसी तरह छात्रों को समझाया

प्रयागराज. इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी में 4 गुना फीस वृद्धि किए जाने के विरोध में छात्रों का आंदोलन लगातार जारी है. आंदोलन के 15वें दिन छात्रों का विरोध प्रदर्शन उग्र हो गया. फीस वृद्धि के खिलाफ छात्रों ने पहले ही आर या पार को लेकर पोस्टर जारी किया था. इसको लेकर यूनिवर्सिटी कैंपस को पूरी तरह से छावनी में तब्दील कर दिया गया था. यूनियन हाल के बाहर आमरण अनशन कर रहे छात्रों के सभा स्थल के पास सुबह 11 बजे से छात्रों का हुजूम नारेबाजी करते हुए पहुंचने लगा था. जिसके बाद करीब एक घंटे बाद हजारों छात्रों ने जुलूस की शक्ल में वीसी कार्यालय की ओर कूच किया। इस दौरान छात्र कैंपस में नारेबाजी करते हुए वीसी कार्यालय पहुंचे, जहां काफी देर तक छात्रों ने नारेबाजी की और फीस वृद्धि वापस लिए जाने की मांग करते रहे.

एक छात्र ने खाया जहर
इस दौरान बीए मास मीडिया थर्ड ईयर का एक छात्र आयुष प्रियदर्शी वीसी कार्यालय के ऊपर तीसरी मंजिल पर चढ़ गया. वह फीस वृद्धि के खिलाफ हाथों में पोस्टर लहराने लगा. उसके पास एलपीजी गैस सिलेंडर और लाइटर भी मौजूद था. उसने ऊपर से ही आत्मदाह की चेतावनी दी. जिसके बाद मौके पर मौजूद पुलिस और प्रशासन के हाथ पांव फूल गए. हालांकि सूझबूझ का परिचय देते हुए पुलिसकर्मियों ने छत पर चढ़कर छात्र को दबोच लिया और उसे सुरक्षित बचा लिया. इसके बाद वीसी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर रहे लगभग आधा दर्जन छात्रों ने अपने ऊपर केरोसीन और पेट्रोल छिड़ककर आत्मदाह की कोशिश की. हालांकि मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने इन छात्रों को भी आत्मदाह करने से रोक दिया. इस बीच एक छात्र ने जहर भी खा लिया. उसे तत्काल उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया.

पुलिस ने छात्रों को तीतर बितर करने के लिए की पानी की बौछार
वीसी कार्यालय पर नारेबाजी कर रहेछात्रों की भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस प्रशासन ने वाटर कैनन से पानी की बौछार कराई। इस बीच इंद्रदेव भी मेहरबान हो गए और तेज बारिश की शुरुआत हो गई. जिसके बाद भीड़ तितर-बितर हो गई. लेकिन इसके बावजूद आंदोलित छात्र बढ़ी हुई फीस वापस लिए जाने की मांग को लेकर नारेबाजी करते रहे. यूनिवर्सिटी कैंपस में करीब 4 घंटे तक फीस वृद्धि के खिलाफ छात्रों का आंदोलन चलता रहा. छात्रों का आरोप है कि फीस वृद्धि कर यूनिवर्सिटी प्रशासन ग्रामीण क्षेत्रों से गरीब और मध्यवर्गीय परिवार के पढ़ने आने वाले छात्रों को उच्च शिक्षा से वंचित करने की साजिश कर रही है. छात्रों ने विश्वविद्यालय प्रशासन को चेतावनी दी है कि फीस वापसी के बगैर उनका आंदोलन नहीं थमेगा.

Tags: Allahabad university, UP latest news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here