उत्तराखंड के एक उद्यान में देश के सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के लगाए गए वृक्ष

0
10


देहरादून. उत्तराखंड वन विभाग (Uttarakhand Forest Department) ने हल्द्वानी (Haldwani) में एक एकड़ में एक ऐसा उद्यान तैयार किया है, जिसमें देश के विभिन्न हिस्सों में पाए जाने वाले वृक्षों की प्रजातियां लगायी गयी हैं. मुख्य वन संरक्षक (अनुसंधान) संजीव चतुर्वेदी (Sanjeev Chaturvedi) ने बताया कि इस उद्यान का नाम ‘भारत वाटिका’ रखा गया है. इसका उद्घाटन विद्यालय में पढ़ने वाली दो लड़कियों ने शनिवार को किया. उन्होंने बताया कि यहां 28 राज्यों और पांच केंद्रशासित प्रदेशों की 24 प्रजातियों के वृक्ष हैं. उन्होंने कहा कि इसमें आम, बरगद, पीपल, नारियल और साल के ऐसे वृक्ष हैं, जो कई राज्यों में पाए जाते हैं.

उन्होंने बताया कि यह एक अद्भुत पहल है क्योंकि देश में यह पहला ऐसा स्थान हैं, जहां देश के अलग-अलग राज्यों के पेड़ एक जगह मिल जाएंगे. उन्होंने कहा कि पीपल, सीता-अशोक और बरगद के अलावा यहां नाग-केसर या आयरन वुड (मिजोरम), चिनार (कश्मीर), चंदन (कर्नाटक). बेहद सुगंधित अगरवुड वृक्ष (त्रिपुरा), ब्रेडरूट (लक्षद्वीप), एलेस्टोनिया (पश्चिम बंगाल), पुडॉक (अंडमान-निकोबार) जैसे वृक्ष यहां हैं.

 कमांडेंट सुनील सोलंकी और जवान शामिल हुए थे
वहीं, पिछले साल खबर सामने आई थी कि देवभूमि उत्तराखंड की को बरकरार रखने के लिए बॉर्डर सिक्योरिटी फ़ोर्स यानी बीएसएफ़ ने वृक्षारोपण अभियान में एक बड़ा बीड़ा उठाया है. बीएसएफ़ देश भर में 10 लाख फल, फूल और छायादार वृक्ष लगाने का अभियान शुरु कर चुका है. इनमें से डेढ़ लाख पौधे उत्तराखंड में लगाए जाने हैं. बीएसएफ़ इंस्टीट्यूट ऑफ़ एडवेंचर एंड एडवांस ट्रेनिंग डोईवाला, देहरादून कैंपस में कमांडेंट राजकुमार नेगी के मार्गदर्शन में वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित किया गया. इसमें बीएसएफ की तरफ से सहायक कमांडेंट सुनील सोलंकी और जवान शामिल हुए थे.

देहरादून में 500 पौधे को रोपित किए जा चुके हैं
बीएसएफ के साथ देहरादून के दून नेचर एसोसिएशन और इको ग्रुप ने भी वृक्षारोपण में सहयोग दिया था. कमांडेंट राजकुमार नेगी ने बताया था कि फ़ोर्स का लक्ष्य पूरे देश में 10 लाख वृक्षारोपण का है. यह कार्यक्रम दो चरणों में आयोजित किया जाएगा. पहले चरण में एक जुलाई से 15  जुलाई के बीच देहरादून में 500 पौधे को रोपित किए जा चुके हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here