उत्तर प्रदेश में भी सामने आया आफताब जैसा प्रिंस, प्रेमिका के 6 टुकड़े कर अलग-अलग जगह फेंके

0
18


हाइलाइट्स

आजमगढ़ के अहरौला थाना इलाके की घटना
प्रेमिका की दूसरी जगह शादी हो जाने से था नाराज
आजमगढ़ पुलिस ने सिरफिरे प्रेमी को किया गिरफ्तार

आजमगढ़. दिल्ली के श्रद्धा मर्डर केस (Shraddha murder case) की तर्ज पर ही उत्तर प्रदेश में भी ऐसा ही एक हत्याकांड सामने आया है. यहां भी एक सिरफिरे प्रेमी ने प्रेमिका की शादी दूसरी जगह हो जाने से नाराज होकर उसकी हत्या कर शव के छह टुकड़े कर दिए. बाद में उनको अलग-अलग जगह फेंक दिया. श्रद्धा मर्डर केस की तरह दिल को दहला देने वाला (Heart-wrenching incident) यह हत्याकांड उत्तर प्रदेश सूबे के आजमगढ़ जिले में सामने आया है. यहां के अहरौला थाना इलाके में पागल प्रेमी ने पहले प्रेमिका का गला दबाकर हत्या कर दी. बाद में गन्ने के खेत में उसके छह टुकड़े कर दिए.

पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि 16 नवंबर को गौरी का पूरा गांव के सड़क किनारे एक युवती का शव कई टुकड़ों में मिला था. युवती की शिनाख्त इलाके के इसहाकपुर गांव निवासी केदार प्रजापति की पुत्री आराधना के रूप में हुई. पुलिस ने इस मामले में कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए हत्या के मुख्य आरोपी प्रिंस यादव को गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ में उसने सच उगला है वह दिल को दहला देने वाला है.

प्रिंस यादव का आराधना से पहले अफेयर चल रहा था
एसपी आर्य ने बताया कि आरोपी प्रिंस यादव का आराधना से पहले अफेयर चल रहा था. लेकिन आराधना की शादी दूसरे व्यक्ति से होने से वह नाराज चल रहा था. इसलिए उसने आराधना को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया और फिर उसे अंजाम दे दिया. इस प्लान में उसके माता-पिता, बहन, मामा, मामी, मामा का लड़का और उसकी पत्नी भी शामिल है. पूरी घटना के दौरान प्रिंस के मामा का लड़का सर्वेश भी साथ ही रहा. पुलिस को इस मामले में पांच महिलाओं समेत आठ आरोपियों की और तलाश है.

आपके शहर से (आजमगढ़)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

शारजहां में लकड़ी काटने का काम करता है प्रिंस
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि प्रिंस यादव खाड़ी देश शारजहां में लकड़ी काटने का काम करता है. उसका आराधना के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था. लेकिन इसी बीच फरवरी 2022 में उसकी शादी किसी दूसरे व्यक्ति से हुई तो वह शारजहां से घर चला आया. इसके बाद उसने आराधना से बात करने की कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हुआ. इस पर उसने आराधना को मारने की योजना बनाई. इसके लिए उसने अपने परिजनों को भी राजी कर लिया.

मामा के बेटे की पत्नी से भी चल रहा था प्रिंस का अफेयर
वह बीते 9 नवंबर को आराधना को भैरव धाम के दर्शन कराने के लिए उसके घर से गया था. वह उसे एक रेस्टोरेंट ले गया. उसके बाद वह वहां से अपने मामा के गांव स्थित एक गन्ने के खेत में आराधना को जबरन खींचकर ले गया. वहां प्रिंस और उसके मामा के लड़के सर्वेश गला दबाकर उसकी हत्या कर दी. प्रिंस का सर्वेश की पत्नी से भी अफेयर चल रहा था.

हत्या के बाद शव के 6 टुकड़े किए
गन्ने के खेत में लकड़ी के बोटे आराधना के शरीर के 6 टुकड़े किए और फिर उसे पॉलिथिन में पैक कर दिया. इसके बाद गौरीपुरा गांव के पास शव को कुंए में फेंक दिया. आराधना के शव को वहां से कुछ दूरी पर स्थित एक तालाब के पास फेंक दिया. फिर दोनों वापस लौट आए और वहीं रुके. पुलिस ने साइंटिफिक तरीके से छानबीन कर सभी सबूतों को इकठ्ठा किया और आरोपी प्रिंस यादव को 19 नवंबर की रात को गिरफ्तार कर लिया.

Tags: Azamgarh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here