उन्नाव: सपा नेता असोहा ब्लॉक अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव, कलेक्टर ने दिए कार्रवाई के आदेश

0
15


हाइलाइट्स

ब्लॉक अध्यक्ष बीतेंद्र प्रताप सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव
77 में से 62 सदस्यों ने किए हस्ताक्षर

उन्नाव: उत्तर प्रदेश के उन्नाव में बड़ी राजनीतिक उठा पटक हुई है. उन्नाव जिले के असोहा ब्लॉक में जनपद अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का मामला सामने आया है. बताया गया कि असोहा ब्लॉक में कुल 77 जनपद पंचायत सदस्य हैं, जिनमें से 62 जनपद पंचायत सदस्यों ने सोमवार को उन्नाव कलेक्टर को ब्लॉक प्रमुख (जनपद अध्यक्ष) बीतेंद्र प्रताप सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव सौंपा. जिसके बाद से अब जनपद अध्यक्ष बीतेंद्र प्रताप सिंह की कुर्सी खतरे में पड़ गई है.

गौरतलब है कि उन्नाव में सन 2021 में मार्च महीने में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव सम्पन्न हुए थे, जिस दौरान जिले के 16 ब्लॉक प्रमुख पदों पर भी चुनाव हुए थे. उन्हीं 16 ब्लॉक में एक असोहा ब्लॉक प्रमुख पद पर सपा नेता बीतेंद्र प्रताप सिंह व बीजेपी नेता आनंद गुप्ता के बीच सीधे मुकाबला हुआ था. चुनाव में 77 जनपद सदस्यों में से 45 जनपद सदस्यों ने सपा नेता बीतेंद्र प्रताप सिंह को मत देकर जनपद अध्यक्ष चुना था जबकि 31 सदस्यों ने आनंद कुमार को वोट किया था, वहीं एक मत अवैध रहा था.

बीजेपी सरकार बनते ही अविश्वास की हो गई थी तैयारी
माना जा रहा है कि 2022 में बीजेपी सरकार बनते ही असोहा ब्लॉक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव की रूपरेखा तैयार हो गई थी. सोमवार को जनपद अध्यक्ष के प्रत्याशी रहे बीजेपी ने आनन्द गुप्ता ने 77 जनपद पंचायत सदस्यों में से 62 सदस्यों के शपथ पत्र उन्नाव कलेक्टर रविन्द्र कुमार को सौंपे.

जनपद अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आते ही राजनीतिक सियासत गर्म हो गई है. सपा जिलाध्यक्ष धर्मेन्द्र यादव ने कहा कि ब्लॉक प्रमुख बीतेंद्र प्रताप सिंह को सपा से पहले ही निष्कासित किया जा चुका है. पूरे राजनीतिक घटनाक्रम पर उन्नाव कलेक्टर रविंद्र कुमार ने बताया कि असोहा ब्लॉक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव नोटिस दिया गया है, जिसमें जिला पंचायत राज अधिकारी को कानून के तहत कार्रवाई के लिए कहा गया है.

Tags: Unnao latest news, Unnao News, Uttarpradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here