एक्सप्रेसवे नहीं सेक्टरों के बीच से जा सकती है मेट्रो ट्रेन, आज या कल होगा निरीक्षण

0
23


नोएडा. दिल्ली (Delhi) और नोएडा (Noida) के बीच मेट्रो से सफर करने वालों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है. मेट्रो ट्रेन (Metro Train) की लाइन अब उनके घर के सामने से होकर या फिर सेक्टर के बीच से होकर जा सकती है. आज यानि सोमवार या मंगलवार को इस पर फैसला हो सकता है. इस संबंध में नोएडा मेट्रो रेल निगम (NMRC) और दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) के बीच बैठक हो चुकी है. इससे पहले नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे (Noida-Greater Noida Expressway) के पास से होकर मेट्रो की लाइन को ले जाने की योजना थी. गौरतलब रहे एक्वा मेट्रो लाइन के सेक्टर-142 स्टेशन को ब्लू और मजेंटा लाइन के बॉटेनिकल गार्डन (Botanical Garden) स्टेशन से जोड़ने के लिए एक कॉरिडोर बनाने की योजना पर काम चल रहा है. योजना को लेकर डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट भी तैयार हो चुकी है.

अभी यह स्टेशन होंगे कॉरिडोर में शामिल

एनएमआरसी से जुड़े सूत्रों की मानें तो सेक्टर-142 स्टेशन को ब्लू और मजेंटा लाइन के बॉटेनिकल गार्डन स्टेशन के बीच कॉरिडोर में पहले 6 स्टेशन शामिल किए गए हैं. सभी 6 स्टेशन सेक्टर-136, 125, 93, 98, 91, 94 का नाम आ रहा था. एनएमआरसी और डीएमआरसी के अफसरों बीच हुई बैठक में कॉरिडोर के रूट बदलने को लेकर विचार हुआ है. जानकारों की मानें तो नए रूट में नोएडा एक्सप्रेसवे को शामिल न कर आवासीय सेक्टर्स को शामिल किया जाएगा. नए कॉरिडोर में स्टेशन की संख्या भी बढ़ जाएगी.

इस कॉरिडोर से एक्वा, मजेंटा और ब्ल्यू लाइन के करीब 10 लाख लोगों को फायदा पहुंचेगा. अभी तक बॉटेनिकल गॉर्डन से ग्रेटर नोएडा वेस्ट आने के लिए पहले नोएडा आना पड़ता है. सूत्रों की मानें तो नए प्लान में संभावित रूट सेक्टर-142 से सेक्टर-91, 108, 47, 46 को शामिल किया जा सकता है. एनएमआरसी की प्रबंध निदेशक रितु माहेश्वरी ने अलाइमेंट में बदलाव के लिए फिर से सर्वे के निर्देश दिए थे, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग मेट्रो से सफर कर सकें.

ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे बनाने के लिए चुनी गई कंपनी, 20 गांवों से गुजरेगा

ग्रेटर नोएडा-नोएडा से सीधे जा सकेंगे दिल्ली, फरीदाबाद और गुरुग्राम

ग्रेटर नोएडा सेक्टर-142 की तरफ से आने वाले यात्री एक्वा लाइन बॉटेनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन तक आएगी. यहां पर आकर यात्री ब्लू और मजेंटा लाइनों की मदद से सीधे दिल्ली, फरीदाबाद और गुरुग्राम तक जा सकेंगे. वहीं दूसरी ओर दिल्ली से आकर नोएडा और ग्रेटर नोएडा के लिए भी सीधी जाने वाली मेट्रो ट्रेन मिलेगी. इससे करीब 30 हजार यात्रियों को फायदा मिलेगा. वहीं ग्रेटर नोएडा वेस्ट जाने के लिए पहले मेट्रो से नोएडा और नोएडा से ऑटो-कैब लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

दो एयरपोर्ट को मेट्रो से जोड़ने का यह भी है अथॉरिटी का प्लान

120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से सुपर फॉस्ट मेट्रो ट्रेन चलाने के लिए यमुना अथॉरिटी का प्लान है कि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के साथ ही मेट्रो ट्रेन भी जेवर तक पहुंच जाए. इसके लिए अथॉरिटी पहले फेज में आईजीआई, दिल्ली एयरपोर्ट से लेकर नॉलेज पार्क (ग्रेटर नोएडा) के 38 किमी लम्बे रूट तक नया मेट्रो रेल कॉरिडोर तैयार किया जाए. इसके लिए पूरी लाइन नए तरीके से बिछाई जाएगी.

दूसरा फेज 35.6 किमी का है. इस फेज में नॉलेज पार्क से लेकर जेवर एयरपोर्ट तक मेट्रो ट्रेन चलाने का प्लान है. नॉलेज पार्क से जेवर तक मेट्रो का रूट एलिवेटेड होगा. यह गौतम बुद्ध नगर का सबसे लम्बा रूट होगा. नोएडा और ग्रेटर नोएडा मेट्रो रूट की लम्बाई 29.7 किमी है.

Tags: Delhi Metro, Greater noida news, Noida Expressway, Noida news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here