एक और आरोपी गिरफ्तार, मुख्य आरोपी पुजारी अब तक फरार

0
37


बदायूं गैगरेप और हत्याकांड केस में पुलिस ने अब तक दो लोगों की गिरफ्तारी की है.

बदायूं (Badaun) गैंगरेप-हत्याकांड: महिला अपने गांव से दूसरे गांव में स्थित एक मंदिर में पूजा करने गई थी. रविवार की रात पुजारी और दो अन्य लोग महिला को लहूलुहान हालत में उसके घर पर छोड़ कर फरार हो गए थे.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 7, 2021, 12:21 AM IST

बदायूं. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बदायूं (Badaun News) जनपद के उघैती थाना क्षेत्र में अधेड़ महिला के साथ गैंगरेप और हत्या (Badaun Gangrape and Murder) के मामले में पुलिस ने एक ओर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. मामले में अब तक दो आरोपी गिरफ्तार हो चुके हें, वही घटना का मुख्य आरोपी पुजारी अब तक फरार है. पुलिस की कई टीमें उसकी गिरफ्तारी की कोशिश में लगी हुई हैं. वहीं मामले में थानाध्यक्ष उघैती राघवेंद्र प्रताप सिंह को एसएसपी संकल्प शर्मा ने निलंबित कर दिया है. मंगलवार शाम को महिला की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उनके प्राइवेट पार्ट में चोट के निशान और शरीर पर भी वार की बात सामने आई थी.

थानाध्यक्ष ने दूसरी ही कहानी गढ़ी

बता दें कि महिला अपने गांव से दूसरे गांव में स्थित एक मंदिर में पूजा करने गई थी. रविवार की रात पुजारी और दो अन्य लोग महिला को लहूलुहान हालत में उसके घर पर छोड़ कर फरार हो गए थे. इसके बाद गंभीर रूप से घायल महिला की मौत हो गई थी. महिला के प्राइवेट पार्ट से खून निकलता हुआ देख परिजनों ने गैंगरेप का आरोप लगाकर एफआईआर दर्ज करने की गुहार लगाई थी. आरोप है कि थानाध्यक्ष ने मामले को दूसरा मोड़ देने की कोशिश की. थानाध्यक्ष ने मौत को एक हादसा बताया और कहानी गढ़ी कि महिला की मौत कुएं में गिरने से हुई. लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कुएं में गिरने का कोई भी ऐसा सबूत नहीं मिला. इसके बाद एसएसपी संकल्प शर्मा ने थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया.

पीएम रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. रिपोर्ट के मुताबिक महिला के गुप्तांग में रॉड जैसी किसी चीज से हमला किया गया, जिससे उनके प्राइवेट पार्ट में गंभीर चोटें आईं. पीएम रिपोर्ट के मुताबिक, महिला की पसली और पैर तोड़ दिए गए. फेफड़ा पर भी वजनदार चीज से हमला किया गया है. एसएसपी ने तुरंत एसपी (देहात) को मौके पर भेजा और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए 4 टीमें बनाई हैं. पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर आरोपी महंत समेत उसके एक साथी और ड्राइवर के खिलाफ गैंगरेप के बाद हत्या का मुकदमा दर्ज किया है.


<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here