कमलनाथ ने उठाए शिवराज के स्वास्थ्य आग्रह पर सवाल, पूछा- क्या इससे कोरोना भाग जाएगा?

0
122


मप्र के पूर्व सीएम कमलनाथ ने शिवराज के अभियान पर टिप्पणी की है. (File)

MP Ex CM Kamal Nath comments over Shivraj Singh Chouhan. कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा है कि जब भी प्रदेश को जरूरत होती है शिवराज उपवास या आग्रह पर बैठ जाते हैं. सच का सामना नहीं करते.

  • Last Updated:
    April 6, 2021, 1:48 PM IST

भोपाल. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के 24 घंटे के स्वास्थ्य आग्रह पर कांग्रेस ने निशाना साधा है. पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने सीएम शिवराज के स्वास्थ्य आग्रह पर सवाल खड़े किए हैं. कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा है कि जब प्रदेशवासियों को सरकार की जरूरत होती है, न्याय की जरूरत होती है,  प्रदेश में विपरीत हालात बन जाते हैं, तो चुनौतियों का सामना करने की बजाय सीएम शिवराज मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए उपवास-सत्याग्रह जैसे आयोजन करने लगते हैं.

कमलनाथ ने  कहा- ‘मंदसौर की पिपलिया मंडी में जब किसानों के पर गोलियां चलाई गईं तब भी मुख्यमंत्री भोपाल में उपवास पर बैठे थे और अब जब प्रदेश के लोगों को संकट के इस दौर में सरकार के मुखिया की जरूरत है, आज लोगों को अस्पतालों में इलाज नहीं मिल पा रहा है, गरीबों को मुफ्त इलाज की दरकार है, अस्पतालों में डॉक्टर की कमी है, अस्पतालों में बेड्स नहीं है, कई जिलों में वैक्सीन खत्म है, आवश्यक दवाइयों और इंजेक्शन की कमी है, इलाज के नाम पर कालाबाजारी और लूट  हो रही है, कोरोना के आंकड़े भयावह होते जा रहे हैं, तब आवश्यक निर्णय लेने, जनता को न्याय दिलवाने और चुनौतियों का सामना करने के बजाय मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए 24 घंटे का स्वास्थ्य आग्रह किया जा रहा है. कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा है कि इस 24 घंटे के आग्रह से प्रदेश से कोरोना कैसे भागेगा. लोगों को न्याय कैसे मिलेगा, इलाज कैसे मिलेगा, बदहाल स्वास्थ्य सेवाएं कैसे सुधरेगी, संक्रमण कैसे कम होगा, यह बताना चाहिए.’

सीएम ने कहा- लॉकडाउन कोई समाधान नहीं

इधर,मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज 24 घण्टे का स्वास्थ्य आग्रह शुरू किया.  मिंटो हॉल पहुंच कर सीएम ने सबसे पहले  महात्मा गांधी का आशीर्वाद लिया. सीएम ने इस मौके पर कहा- आज का दिन ऐतिहासिक दिन है. 6 अप्रैल 1930 को बापू ने नमक कानून तोड़ा था.आज ही बीजेपी का स्थापना दिवस है. गांधी जी ने सत्याग्रह कर देश को आज़ाद कराया. मैं आज स्वास्थ्य आग्रह पर बैठ रहा हूं. कोरोना हमारे प्रदेश में भी तेजी से फैल रहा है. केवल सरकारी प्रयासों से इस पर नियंत्रण नहीं किया जा सकता है. सीएम ने कहा कि बढ़ते संक्रमण के कारण चिंता बढ़ रही है. सरकारी व्यवस्थाओं में हम कसर नहीं छोड़ेंगे. लॉकडाउन कोरोना की समस्या का कोई समधान नहीं.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here