कांग्रेस विधायक भरत सिंह ने दी पार्टी प्रभारियों को ये बड़ी नसीहत, कहा- इस पर अमल करें अन्यथा…

0
25


सिंह ने कोटा में बैठक लेने आए कांग्रेस की नई टीम के महासचिव और उपाध्यक्ष कोटा के प्रभारी राजेंद्र चौधरी तथा आर खटाना से ट्रांसफर पर बैन जैसा सिस्टम भी बंद करने की वकालत की.

Local body and Zilla Parishad elections: अपनी बेबाक बयानबाजी के लिये चर्चित रहने वाले कांग्रेस विधायक भरत सिंह (Bharat Singh) ने संगठन के पदाधिकारियों को नसीहत दी है कि चुनाव में मजबूत नेताओें को कमान सौंपे अन्यथा पार नहीं पड़ेगी.

कोटा. हाल ही में हुये नगर निगम चुनाव में कांग्रेस (Congress) को मिली बंपर जीत के बाद अब आगामी निकाय और जिला परिषद के चुनाव ( Local body and Zilla Parishad elections) में भी पार्टी बाजी मारने की तैयारी में है. इसको लेकर कांग्रेस विधायक भरत सिंह ने एक बार फिर संगठन को नसीहत देते हुए कहा है कि बूंदी और झालावाड़ में एक-एक मजबूत कांग्रेस नेता को जिम्मेदारी सौंपी जाए ताकि कोटा की तरह जिस तरह मंत्री शांति धारीवाल पार्टी के पक्ष में परिणाम लाये वैसे ही दोनों जिलों में कांग्रेस परचम लहराये. सिंह ने कहा कि इसके अभाव में खिचड़ी बन जाएगी और पार्टी को जीत हासिल नहीं होगी.

विधायक भरत सिंह ने कोटा में बैठक लेने आए कांग्रेस की नई टीम के महासचिव और उपाध्यक्ष कोटा के प्रभारी राजेंद्र चौधरी तथा आर खटाना से ट्रांसफर पर बैन जैसा सिस्टम भी बंद करने की वकालत भी की. बुधवार को कांग्रेस कार्यालय में आयोजित हुई इस बैठक में कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष सहित पार्टी के अन्य पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि और कार्यकर्ता मौजूद रहे. बैठक में कार्यकर्ताओं ने प्रभारियों से ट्रांसफर से बैन हटाने की पुरजोर मांग की. इसके साथ ही हाड़ौती में आगामी चुनाव में एकजुटता के साथ चुनाव लड़ने की व्यवस्था किये जाने की भी मांग की.

जल्द नई कार्यकारणी के गठन का दिया भरोसा
बैठक के बाद प्रभारियों ने मीडिया से मुखातिब होते हुए दावा किया है कि कांग्रेस की सरकार घोषणा-पत्र के आधार पर काम कर रही है. सरकार की लोक कल्याणकारी योजनाओं का फायदा राज्य की जनता को मिल रहा है. आने वाले चुनाव में भी कांग्रेस जीत का परचम लहराएगी. प्रभारियों ने नई कार्यकारिणी में युवाओं और सेवाभावी कार्यकर्ताओं को मौका देने की भी बात कही है. उन्होंने कार्यकर्ताओं को जल्द ही नई कार्यकारणी का गठन करने का भरोसा भी दिलाया. बैठक में कांग्रेस नेता अमित धारीवाल, पूर्व जिलाध्यक्ष रविंद्र त्यागी और कोटा नगर निगम के महापौर तथा उपमहापौर सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे.प्रभारियों को नाराजगी भी झेलनी पड़ी

कोटा कांग्रेस कार्यालय में पहली बार बैठक लेने पहुंचे कांग्रेस के दोनों प्रभारियों को कांग्रेस कार्यकर्ताओं की नाराजगी भी झेलनी पड़ी. देरी से आने के कारण कार्यकर्ताओं ने प्रभारियों के सामने नारेबाजी कर विरोध जताते हुए कहा कि उनकी अनदेखी से पार्टी मजबूत नहीं होगी. कार्यकर्ताओं की नाराजगी देखते हुए वरिष्ठ नेताओं के दखल के बाद मामला शांत हुआ. दरअसल मीटिंग का समय 12 बजे का रखा गया था. लेकिन दोनों ही प्रभारी राजेंद्र चौधरी और आर खटाणा करीब 2 बजे कार्यालय पहुंचे. इससे नाराज कार्यकर्ताओं उनके आते ही विरोध जता दिया.


<!–

–>

<!–

–>


! function(f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function() {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
};
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
}(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here