किसान मुआवजे मांगते हुए मर गया, बेटे को 15 साल बाद मिली जमीन तो सिर पकड़कर बैठ गया

0
40


नोएडा. ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी (Greater Noida Authority) से 140 वर्गमीटर जमीन मिलने के बाद राकेश बेहद खुश था. नाते-रिश्तेदारों को वो खुशी-खुशी खबर दे रहा था कि अब हमारे नए घर का पता सैनी गांव होगा. राकेश की खुशी इसलिए भी ज्यादा थी कि पूरे 15 साल की कार्रवाई के बाद उसे जमीन (Land) का यह टुकड़ा मिला था. हालांकि राकेश को एक कसक यह भी है कि इस जमीन का पाने के लिए कागजी कार्रवाई (paper work) करते-करते उसके पिता दुलीचंद परलोक सिधार गए. लेकिन जब जमीन का लीज प्लान (Lease Plan) राकेश के हाथ में आया तो उसे देखकर वो सिर पकड़कर बैठ गया. अब तो जमीन के उस टुकड़े पर न राकेश मकान बना सकता है और न ही जमीन का वो टुकड़ा बिक सकता है. लेकिन इस सबके बीच एक बार फिर से सही माप की जमीन पाने के लिए राकेश की कागजी कार्रवाई शुरू हो गई है.

यह है किसान और जमीन से जुड़ा पूरा मामला

कोई भी अथॉरिटी जब जमीन का अधिग्रहण करती है तो उसके बदले में रहने के लिए तय फीसद के हिसाब से दूसरी जगह पर जमीन भी देती है. किसान दुलीचंद के बेटे राकेश का आरोप है, “2007 में उसके पिता की 2330 वर्गमीटर जमीन का अधिग्रहण हुआ था. यह अधिग्रहण ग्रेटर नोएड़ा अथॉरिटी ने किया था. नियमानुसार हमे 140 वर्गमीटर जमीन का प्लाट मिलना था. लेकिन प्लाट के लिए चक्कर काटते-काटते एक दिन पिता की मृत्यु हो गई. फिर 15 साल बाद एक दिन ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी से एक लैटर मिला कि गांव सैनी में आपको 140 वर्गमीटर जमीन दी जाती है.

फिर कुछ दिन बाद जमीन का लीज प्लान भी मिल गया. लेकिन लीज प्लान देखते ही मैंने सिर पकड़ लिया. चक्कर आने लगे. लीज प्लान के मुताबिक हमे प्लाट नंबर 210 मिला था. बराबर में एक साइट प्लाट नंबर 211 एक दूसरे किसान का था. प्लाट के दूसरी साइट ग्रीन बेल्ट थी.

मार्च में ही खुल जाएगा नोएडा से हेलीकाप्टर की उड़ान का रास्ता, जानें प्लान

सामने 12 मीटर का रोड जा रहा है. रोड के सामने प्लाट का फ्रंट 12.40 मीटर का है. ग्रीन बेल्ट की साइट 25.92 मीटर की है. और 211 नंबर प्लाट की साइट 22.76 मीटर की माप है. इस माप से पूरा प्लाट अंग्रेजी के मुताबिक ट्राइंगल और हिन्दू मान्यता के अनुसार सर्पमुखी है. अब ऐसी जमीन पर न तो मकान बन सकता है और न ही यह जमीन बिक सकती है.”

आपके शहर से (नोएडा)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Farmer, Greater Noida Authority, Land Dispute



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here