कूरियर से कारतूस भेज कर लखनऊ के डॉक्टर से मांगी रंगदारी, कहा- बहुत कमा रहे हो 5 लाख रुपये भेज दो

0
23


हाइलाइट्स

कारतूस भेजकर रंगदारी मांगने का यह पहला मामला नहीं
दोनों ही मामलों में कूरियर भेजने वाले का नाम विजय जायसवाल

लखनऊ. राजधानी लखनऊ में बेखौफ बदमाश अब खुलेआम रंगदारी मांग रहे हैं. ताजे मामले में लखनऊ के नामी गुप्त रोग विशेषज्ञ बर्लिंगटन क्लीनिक के डॉ सारांश जैन से पांच लाख की रंगदारी मांगी गई है. बदमाशों ने बाकायदा कूरियर से 12 बोर का कारतूस भेजकर रंगदारी मांगी है. इस मामले में डॉ सारांश जैन ने मंगलवार शाम को हुसैनगंज थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है. कूरियर से कारतूस भेजकर रंगदारी मांगने का यह पहला मामला नहीं है. इससे पहले भी कृष्णानगर में आरके ज्वैलर्स के पते पर भी कारतूस भेज कर पांच लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई थी. चौंकाने वाली बात यह है कि इन दोनों ही मामलों में कूरियर भेजने वाले का नाम विजय जायसवाल लिखा हुआ है.

मिल रही जानकारी के मुताबिक 19 जुलाई को राजधानी के बर्लिंगटन चौराहे पर स्थित जैन क्लिनिक के डॉ सारांश को एक कूरियर मिला जिसमें एक शीशी और पत्र था. शीशी में कारतूस थी और पत्र में लिखा था कि बहुत कमा रहे हैं. पांच लाख रुपये जिला जेल में मुलाकात के दौरान पहुंचा दो वरना कारतूस का इस्तेमाल करना पड़ेगा. जिसके बाद अब डॉक्टर द्वारा एफआईआर दर्ज करवाई गई है. फिलहाल पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है और मामले की जांच में जुटी है.

कुछ दिन पहले ही जेल से छूटा है विजय
मामले में एडिसिपी सेंट्रल राघवेंद्र मिश्रा ने बताया कि हुसैनगंज थाने में एफआईआर दर्ज कर जांच की जा रही है. गौरतलब है कि लखनऊ जेल में बंद विजय जायसवाल के नाम से रंगदारी मांगी गई है. हालांकि डीजी जेल आनंद कुमार ने कहा कि विजय जायसवाल कुछ दिन पहले जेल से जमानत पर छूट चुका है.

Tags: Lucknow news, Lucknow Police, UP latest news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here