कोरोना काल में न थमे सांस, बिहार के इस उद्योगपति ने फ्री ऑक्सीजन से लेकर रोटी तक की कर दी व्यवस्था

0
24


मोतिहारी. पिछले दो सालों से जारी कोरोना के कहर और संक्रमण (Corona Pandemic) के दौरान कई लोगों ने अपनी जिंदगी खो दी तो कईयों की रोजी-रोटी तक छीन गई. लोग ऑक्सीजन से लेकर रोटी तक के लिए मोहताज दिखे. ऐसे समय में जब फिर से देश पर कोरोना के तीसरे फेज (Corona Third Wave) का खतरा लगातार मंडरा रहा है बिहार के मोतिहारी में एक व्यवसायी ने मानवता और सामाजिक कार्यों की एक मिसाल पेश की है. इस व्यवसायी ने लोगों के लिए रोटी से लेकर ऑक्सीजन (Oxygen Plant) तक की व्यवस्था पहले ही कर दी है ताकि जिले समेत आसपास के इलाकों में भी कोई भूखा न मरे साथ ही किसी की मौत की वजह ऑक्सीजन न बने.

मोतिहारी के इस उद्योगपति शम्भुनाथ सिकारिया ने ऑक्सीजन और रोटी मेकर प्लान्ट की स्थापना की. ऑक्सीजन प्लान्ट के साथ-साथ उन्होंने आपदा के समय आमलोगों के लिए भरपूर मात्रा में जल्दी से खाना और रोटी तैयार हो सके इसके लिए ऑटोमेटिक मशीन भी लगाया है. ये मशीन कुछ ही मिनटों में सैकडों रोटी सेंक कर दे देगी. उद्योगपति ने आमलोगों को सहूलियत देने के लिए मुक्ति रथ को भी लाया है. समाज सेवा के एक साथ तीन कार्यों का लोकार्पण डीएम शीर्षत कपिल अशोक ने किया है. मोतिहारी नगर के राधा नगर में स्थापित ऑक्सीजन प्लान्ट का लोकार्पण करने के बाद डीएम ने मशीन के कार्यों और क्षमता की जानकारी ली साथ ही डीएम ने रोटी बैंक मशीन का लोकार्पण किया.

डीएम शीर्षत कपिल अशोक ने कहा कि डबल प्रोसेस डबल कम्प्रेस ऑक्सीजन प्लान्ट है जो मेडिकल के काम के लिए उत्तम क्वालिटी का ऑक्सीजन देगा. ये अत्यंत सीरियस मरीजो के लिए लाभदायक होगा. उन्होंने कहा कि अभी तक सभी ऑक्सीजन प्लान्ट से कई गुना बेहतर है. राधाकृष्ण सेवा समिति के अध्यक्ष सह आम लोगों के लिए एक साथ ऑक्सीजन प्लान्ट,रोटी बैंक और मुक्ति रथ को देने वाले उद्योगपति शम्भुनाथ सिकारिया ने कहा कि मरीजों और असहाय मरीजों को इस नये प्लान्ट से नि:शुल्क ऑक्सीजन दिया जायेगा. उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में पूर्वी चम्पारण जिला सहित राज्य के विभिन्न इलाकों में ऑक्सीजन की किल्लत हो गयी थी, इसके लिए प्लान्ट सहायक होगी.

उन्होंने कहा कि आपदा के समय में गरीबों के रोजगार पर संकट आ जाता है और रोटी के लाले पड जाते हैं ऐसे में गरीब परिवार के लोगों को भरपूर सहायता के लिए ऑटोमेटिक रोटी मेकर मशीन को लाया गया है जो एक घन्टे में एक हजार रोटी बना सकेगी. सिकारिया ने कहा कि अगर किसी की मौत होती है तो उसे भी पूरे सम्मान के साथ अंतिम संस्कार के लिए ले जाया जाए इस उद्देश्य से मुक्ति रथ भी दिया जा रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here