कोरोना ने छीना मां-बाप का साया, मासूम भाई-बहन की अब चाची-मौसी कर रहे देखभाल-Corona virus orphaned two children in rohtak hrrm– News18 Hindi

0
24


रोहतक. कोरोना (Corona Virus) का कहर परिवारों पर किस कदर टूटा है, इसकी एक बानगी आपको बताते हैं. दादी, चाची और मौसी की गोद में पलने वाली महज तीन माह की खुशी और उसका 7 साल का भाई कुश दोनों अनाथ (Orphans) हो चुके हैं. कोरोना ने इन मासूमों के मां-बाप को छीन लिया. दादी के माथे पर चिंता की लकीरें पैदा हो गई हैं, चाची और मौसी इनके भविष्य को लेकर चिंतित हैं.

रोहतक के नजदीक बोहर गांव के नरेंद्र का परिवार खुशी-खुशी गुजर बसर कर रहा था. नरेंद्र डीजे का काम करता था और उनकी पत्नी ममता रोहतक में ब्यूटी पार्लर चलाती थी. दोनों पति पत्नी बेहद खुश थे, क्योंकि घर में किसी तरह की परेशानी नहीं थी. ममता 7 माह की गर्भवती थी कि अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई. उसे अस्पताल में दाखिल कराया गया तो उसने 2 मई को एक प्रीमेच्योर बेबी को जन्म दिया. बच्ची कमजोर थी, इसलिए उसे अस्पताल के निकू वार्ड में रखा गया.

ममता का कोविड टेस्ट हुआ तो 4 मई को उसकी रिपोर्ट आई, जिसमें वह पॉजिटिव मिली. इस बीच नरेंद्र की भी तबीयत बिगड़ गई, जिसकी 8 मई को कोरोना के चलते मौत हो गई. दूसरी तरफ ममता और उसकी नवजात बच्ची अस्पताल में जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रही थी. लेकिन शायद ममता की किस्मत में भी अपने बच्चों को ममता देना नहीं लिखा था. वह भी 16 मई को इस दुनिया को अलविदा कह गई.

दादी, चाची और मौसी कर रही देखभाल

दोनों भाई-बहन अब अनाथ हो चुके हैं, हालांकि उनकी दादी सुमित्रा, चाची अनु और मौसी सरिता देखभाल कर रही हैं. पर उन्हें भी इनके भविष्य की चिंता सता रही है. उनका कहना है कि परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया इतने छोटे-छोटे बच्चों को पालना बेहद मुश्किल काम है. इनके पालन पोषण में किसी तरह की कमी भी नहीं आएगी और मां-बाप की भी कमी महसूस नहीं होने देंगे, लेकिन मां-बाप तो मां-बाप ही होते हैं.

नरेंद्र और ममता के ईलाज में लाखों रुपए का कर्ज भी हो गया है. अब देखते हैं क्या होता है. सरकार से भी उम्मीद है कि सरकार इन बच्चों के भविष्य को लेकर कुछ सहयोग करें. पर हमने कोरोना का क्रूरतम रूप देखा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here