कोर्ट ने बीजेपी MP अरुण सागर को किया भगोड़ा घोषित, कहा- सार्वजानिक स्थानों पर चस्पा हो आदेश 

0
13


हाइलाइट्स

चुनाव प्रचार सामग्री जब्त किए जाने के एक मामले में पेश नहीं होने पर जारी हुआ था NBW
NBके बावजूद कोर्ट में पेश न होने पर जज ने सांसद अरुण सागर को भगोड़ा घोषित किया

शाहजहांपुर. यूपी के शाहजहांपुर से भारतीय जनता पार्टी के सांसद अरुण सागर को अदालत ने फरार घोषित कर दिया है. शाहजहांपुर जिले की विशेष एमपी/एमएलए अदालत ने चुनाव प्रचार सामग्री जब्त किए जाने के एक मामले में अदालत में पेश नहीं होने पर बीजेपी सांसद को फरार घोषित कर दिया. इससे पहले कोर्ट ने बीजेपी सांसद के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था. बावजूद इसके कोर्ट में पेश न होने पर उन्हें भगोड़ा घोषित किया है.

विशेष लोक अभियोजन अधिकारी नीलिमा सक्सेना ने बुधवार को बताया कि लोकसभा चुनाव के दौरान 12 मार्च 2019 को तत्कालीन उप जिलाधिकारी सदर ने बरेली-जलालाबाद मार्ग पर बीजेपी प्रत्याशी अरुण सागर की प्रचार सामग्री को जब्त किया था. इस मामले में कांट थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था. कई बार समन के बावजूद बीजेपी सांसद अदालत में पेश नहीं हुए.

NBW जारी होने के बाद भी पेश नहीं सांसद

नीलिमा सक्सेना ने बताया कि इसी मामले में बीजेपी सांसद अरुण सागर कई बार समन के बावजूद अदालत में पेश नहीं हुए और इसके बाद उनके विरुद्ध अदालत ने गैर जमानती वारंट जारी कर दिया. उन्होंने बताया कि जब वारंट जारी होने के बाद भी वह अदालत में हाजिर नहीं हुए, तब न्यायाधीश आसमां सुल्ताना ने गत 21 नवंबर को उन्हें फरार घोषित कर दिया.

आदेश की प्रति सार्वजनिक स्थान पर लगाने का ऑर्डर

सक्सेना ने बताया कि अदालत द्वारा दिए गए आदेश में कहा गया है कि ऑर्डर की कॉपी को सांसद के आवास के साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर भी चस्पा किया जाए. वहीं कोर्ट से वारंट जारी होने के बाद पुलिस सांसद के घर नोटिस चस्पा करने की तैयारी कर रही है. फिलहाल सांसद के खिलाफ वारंट जारी होने से बीजेपी पार्टी मे इस लापरवाही के लिए चर्चा का विषय बना हुआ है.

Tags: Shahjahanpur Court, Shahjahanpur News



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here