क्या था मामला, क्यों हुई बहस; गालीबाज श्रीकांत त्यागी की गिरफ्तारी के बाद महिला ने सब बताया

0
48


रिपोर्ट: अंकुर शर्मा

नोएडा: ‘मैंने अपने लिए कुछ नहीं किया, यह मेरा निजी मामला नहीं था. मैं किसी भी समुदाय के खिलाफ क्यों रहूंगी? मैं तो त्यागी से बात भी नहीं कर रही थी. मैं तो सोसाइटी के लोगों के लिए खड़ी थी.’ यह उस महिला की पहली प्रतिक्रिया है, जिसने नोएडा के ओमेक्स ग्रैंड सोसाइटी में रहने वाले गालीबाज श्रीकांत त्यागी के अहंकार को चकनाचूर कर जेल भिजवाया. बता दें कि इसी महिला से बदसलूकी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसके बाद त्यागी को कोर्ट ने 14 दिनों के लिए जेल भेज दिया.

श्रीकांत त्यागी को मंगलवार को गिरफ्तार किए जाने के बाद महिला ने News18 से विशेष रूप से बात की और नोएडा सेक्टर 93बी में ग्रैंड ओमेक्स के परिसर में अपने और श्रीकांत त्यागी के बीच की पूरी घटना को विस्तार से बताया. महिला ने कहा कि वह सोसाइटी के माली से बात करने के लिए लॉन इलाके में गई थी, क्योंकि वह श्रीकांत त्यागी के निर्देश के अनुसार कॉमन एरिया में पौधे लगा रहा था. महिला दिल्ली विश्वविद्यालय से पास आउट है और एमबीए किया है. वह अपने पारिवारिक व्यवसाय में पार्ट टाइम काम करती है.

News18 से बातचीत में महिला ने कहा, ‘मेरे पास कहने के लिए कुछ नहीं है. उस दिन मैं बस लॉन इलाके में गई थी और माली से पूछा कि वह इन पौधों को यहां क्यों लगा रहा है. कुछ ही मिनटों में श्रीकांत त्यागी आ गया और मुझसे बहस करने लगा. मैं उससे बात नहीं कर रही थी लेकिन उस दौरान जो कुछ भी हुआ आप सभी ने देखा. आखिरकार मैंने उसका सामना किया.’

उन्होंने इस आरोप को खारिज कर दिया कि वह एक खास समुदाय के खिलाफ हैं. उन्होंने आगे कहा, ‘कुछ लोग कह रहे हैं और मैं मीडिया में देख रही हूं कि यह एक्ट त्यागी समुदाय के खिलाफ है. मुझे किसी भी समुदाय के साथ कोई समस्या क्यों होगी? दरअसल, अभी-अभी मेरे दो दोस्त जिनका एक ही उपनाम (त्यागी) भी है, विशेष रूप से यहां आए और मुझसे मेरे घर पर मिले. मेरे सभी समाज में मित्र हैं, चाहे वह किसी भी समुदाय का हो. कुछ लोग अनावश्यक रूप से इस मुद्दे को डायवर्ट करने की कोशिश कर रहे हैं.’

जब News18 ने पूछा कि क्या उन्हें अभी भी त्यागी की गिरफ्तारी के नतीजों का डर है तो उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं पता. मेरा भी एक परिवार है. लेकिन यह मेरा पारिवारिक या व्यक्तिगत मामला नहीं था. अब सोसाइटी के निवासी और आरडब्ल्यूए इस मामले को देखेंगे. मैंने हमारे यानी सोसाइटी के निवासियों के लिए त्यागी का सामना किया. नहीं तो मैं उससे बात भी नहीं करती.

News18 ने उनकी फैमिली फ्रेंड प्रेक्षा सिंह से भी बात की, जो एक डिजिटल मार्केटर हैं, और उसी सोसाइटी में रहती हैं. प्रेक्षा ने कहा, ‘दिन का समय था और हम में से ज्यादातर या तो स्कूल से बच्चों को लेने निकले थे या ऑफिस में थे. सोसाइटी में बहुत कम लोग थे. वह (पीड़ित महिला) त्यागी से बात तक नहीं की और केवल प्लांटेशन के रूप में अतिक्रमण हटाने के लिए गई थी.

बता दें कि नोएडा सेक्टर 93-बी स्थित ग्रैंड ओमेक्स सोसायटी में महिला से अभद्रता करने के मामले में गिरफ्तार आरोपी श्रीकांत त्यागी को मंगलवार को स्थानीय अदालत ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के प्रवक्ता ने बताया कि श्रीकांत त्यागी (34) को मंगलवार को नोएडा पुलिस ने मेरठ से गिरफ्तार किया था. त्यागी के साथ उसके तीन और साथी भी गिरफ्तार हुए हैं. उन्होंने बताया कि सभी आरोपियों को मंगलवार शाम गौतम बुद्ध नगर जिला अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.

Tags: Noida news, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here