क्या है 85 Vs 15 की बात, केशव मौर्य Vs स्वामी मौर्य, पढ़िए यूपी की ये 5 बड़ी खबरें

0
21


नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election) को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां लगातर बढ़ती जा रही है. खास कर टिकट लेने के लिए इस वक्त नेताओं के बीच होड़ मची है. सबसे ज्यादा हलचल बीजेपी और समाजवादी पार्टी के खेमे में दिख रही है. यहां कई नेता धड़ाधड़ पाला बदल रहे हैं. बीजेपी के कई विधायकों ने ये कहते हुए इस्तीफा दे दिया है कि योगी आदित्यनाथ की सरकार में उनका सम्मान नहीं हो रहा. आईए एक नज़र डालते हैं उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से जुड़ी पांच बड़ी खबरों पर…..

1. 2 मंत्री, 6 विधायक और दर्जनभर पूर्व MLAs से मजबूत हुई सपा
उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक पहले समाजवादी पार्टी ने बड़ी सेंधमारी की है और भाजपा को कई झटके देकर अपने कुनबे को मजबूत करने की कोशिश की है. अखिलेश यादव की उपस्थिति में स्वामी प्रसाद मौर्य से लेकर धर्म सिंह सैनी समेत दर्जनों विधायक-पूर्व विधायक आज साइकिल पर सवार हो गए.

यहां पढ़ें पूरी खबर

2. स्वामी समेत BJP व‍िधायकों के पार्टी छोड़ने पर CM योगी ने तोड़ी चुप्पी
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले स्वामी प्रसाद मौर्य लेकर कई विधायकों के पार्टी छोड़ने और भाजपा के दलित विरोधी होने के आरोपों पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहली प्रतिक्रिया सामने आई है. स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायकों के पार्टी छोड़ने पर बगैर किसी का नाम लिए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि एक चीज हमें ध्यान रखनी होगी कि वंशवाद और परिवारवाद की राजनीति करने वाले सामाजिक न्याय की लड़ाई नहीं लड़ सकते.

यहां पढ़ें पूरी खबर

3. स्वामी प्रसाद मौर्य Vs केशव प्रसाद मौर्य… कौन बनेगा यूपी में मौर्य वोटों का बाजीगर?
मकर संक्रान्ति से हफ्ते भर पहले यूपी की सियासत में उठापटक तेज हो गई और इस उठापटक में सियासी मंच पर स्वामी प्रसाद मौर्य अगुवा बनकर उभरे, 2016 में बसपा से बीजेपी में आने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य ने यूपी की योगी सरकार की कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया और कहा कि वे 14 जनवरी को मकर संक्रान्ति के दिन अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी ज्वॉइन करेंगे.

यहां पढ़ें पूरी खबर

4. लगातार कमजोर हो रही BSP! 1 साल के भीतर पार्टी का खर्च 95 से घटकर 17 करोड़ रुपये हुआ बहुजन समाज पार्टी (BSP) की आय और खर्च दोनों ही क्षेत्र में गिरावट दर्ज की गई है. वहीं, तमिलनाडु में सत्तारूढ़ डीएमके (DMK) की प्राप्तियों में 131 फीसदी का इजाफा देखा गया. फिलहाल, चुनाव आयोग की वेबसाइट पर कुछ राजनीतिक पार्टियों की रिपोर्ट ही मौजूद है. साल 2019-20 में बसपा की आय 58.2 करोड़ रुपये और खर्च 95 करोड़ रुपये से ज्यादा था.

यहां पढ़ें पूरी खबर

5. डॉ. धर्म सिंह सैनी का दावा- 10 मार्च को CM बनेंगे अखिलेश, फिर 2024 में पीएम
डॉ. धर्म सिंह सैनी ने कहा कि हम मकर संक्रांति पर शपथ लेते हैं, संविधान बचाने के लिए और दलित शोषितों को अत्याचार से बचाने के लिए 10 मार्च को समाजवादी सरकार बनाएंगे. वहीं, उन्‍होंने कहा कि जो मानवता मुझे अखिलेश यादव से मिली वो कहीं और नहीं मिली, क्‍योंकि मैं बीएसपी और बीजेपी दोनों में रहा हूं. वहीं, सैनी ने कहा कि 10 मार्च 2022 को हम आपको मुख्यमंत्री और 2024 में प्रधानमंत्री पद की शपथ दिलवाएंगे.

यहां पढ़ें पूरी खबर

Tags: Uttar Pradesh Assembly Election 2022



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here