खेत से लौट रही युवती के साथ गैंगरेप, घटना का वीडियो बनाकर पीड़िता को भेजा, लेकिन पुलिस ने कर दिया खेल

0
15


अलीगढ़. खेत से घर लौट रही युवती के साथ दबंगों ने गैंगरेप कर अश्लील वीडियो बनाया है. इस वीडियो को आरोपियों ने युवती को ही भेजकर धमकाया. इसकी शिकायत पुलिस से की गई, लेकिन पुलिस ने गैंगरेप की घटना को छेड़छाड़ में दर्ज किया है. वहीं रेप का वीडियो सामने आने के बाद पुलिस प्रशासन में हड़कंप मचा है. युवती पर दबाव भी बनाया जा रहा है.

अलीगढ़ पुलिस का FIR लिखने में खेल करने का मामला सामने आया है. एक युवती के साथ गैंगरेप की घटना हुई. जिसका आरोपियों द्वारा वीडियो भी बनाया गया और धमकाने के लिए युवती तक भी भेज दिया गया. गैंगरेप की घटना की शिकायत आला अधिकारियों से हुई, लेकिन मुकदमा लिखने के आदेश के बाद थाना पुलिस ने गैंगरेप की घटना को छेड़छाड़ में दर्ज कर दिया. इतना ही नहीं, अब पीड़ित युवती पर दबाव बनाया जा रहा है.

दरअसल, अलीगढ़ के थाना अतरौली इलाके के एक गांव में 14 अप्रैल को एक युवती खेत से अपने घर वापस लौट रही थी. इसी दौरान युवती को गांव के ही नामजद दो युवकों द्वारा रास्ते में पकड़ लिया गया. उसे जबरन कोल्ड ड्रिंक पिलाई गई. नशे की हालत में युवती को खींचकर पास में ही जंगली झाड़ियों में ले जाकर युवती के साथ बारी-बारी दोनों युवकों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया.

इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें पीड़िता उसके साथ हो रही रेप की जघन्य घटना को अंजाम देने के दौरान वह विरोध दर्ज कराती हुई दिख रही है, लेकिन युवक जबरन बलात्कार कर रहा है. पीड़ित युवती का कहना है कि आरोपित युवकों ने घटना को अंजाम देने के बाद वीडियो फोटो बनाए और वायरल कर के वीडियो युवती तक पहुंचाया. वहीं, एक फोटो सोशल मीडिया पर अपने स्टेटस पर भी लगा दिया.

यह सब देख शांत बैठी युवती व उसके परिवारीजन क्षेत्राधिकारी अतरौली के पास न्याय के लिए पहुंचे. जहां शिकायती पत्र देकर पूरी घटना बताई गई, लेकिन अतरौली थाना पुलिस ने गैंगरेप की शिकायत के बावजूद भी मात्र छेड़खानी व आईटी एक्ट समेत अन्य धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया है. पीड़ित युवती का कहना है कि वह आरोपित के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई चाहती है. वह आगे पढ़ना भी चाहती है. अगर उसे न्याय ना मिला तो वह आत्महत्या कर लेगी.

वहीं, जब इस संबंध में क्षेत्राधिकारी अतरौली शिव प्रताप सिंह से बात की गई तो उन्होंने युवती के भाई द्वारा शिकायती पत्र देने की बात कही और संबंधित थाना पुलिस को जांच कर मुकदमा पंजीकृत करने के निर्देश दिए. रेप की घटना को संबंधित थाना पुलिस द्वारा छेड़छाड़ में दर्ज किए जाने के सवाल पर क्षेत्राधिकारी शिव प्रताप सिंह थाना पुलिस को बचाते हुए दिख रहे हैं.

Tags: Aligarh Crime News, Gangrape, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here