गाजियाबाद में गंदे पानी की आपूर्ति, देखें आपका इलाका तो नहीं है इसमें

0
16


हाइलाइट्स

40 इलाके में जांच में सीवरयुक्त पानी पाया गया

गाजियाबाद. शहर के तमाम इलाकों में गंदे पानी (contaminated water) की आपूर्ति हो रही है. ज्‍यादातर जगह सीवर लाइन (sewer line) टूटकर पानी की लाइन से जुड़ गयी है, इस वजह से घरों में गंदे पानी की आपूर्ति हो रही है. गाजियाबाद स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की रिपोर्ट के अनुसार 363 नमूनों में से 112 नमूने जांच में फेल पाए गए हैं. इनमें 40 इलाके में जांच में सीवरयुक्त पानी पाया गया है. इस वजह से लोग बीमार भी हो रहे हैं.
जिला सर्विलांस अधिकारी आरके गुप्‍ता ने बताया कि पिछले कुछ माह में शहर के तमाम इलाकों में पीने के पानी का नामूने लिए गए थे. जांच रिपोर्ट में 40 इलाकों में पेयजल में सीवर का पानी पाया गया है. दूषित पानी पीने से लोग डायरिया की चपेट में आ रहे हैं.

इन इलाकों में हो रही है गंदे पानी की सप्‍लाई

उदलनगर, सेवानगर, शिब्बनपुरा, नंदग्राम, पीले क्वार्टर, सेक्टर-23 संजयनगर, विवेकानंदनगर, विजयनगर, शांतिनगर, भूडभारत नगर, घूकना, सिहानी, दीनागढ़ी, जगदीशनगर, स्वर्णजयंतीपुरम, हरसांव, प्रतापनगर, महेंद्रा एन्क्लेव, पटेलनगर, बाल्मीकि कुंज, मानसी विहार, वसुंधरा सेक्‍टर 4

स्वास्थ्य विभाग ने लिखा पत्र

स्वास्थ्य विभाग ने प्रशासन के अलावा नगर निगम और जीडीए को कई बार पत्र भेजकर स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति किए जाने का अनुरोध किया है, लेकिन अभी तक सुधार नहीं हुआ है. यही वजह है कि सरकारी और निजी अस्पतालों में डायरिया के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. स्वर्णजयंती पुरम में दो बच्चों की मौत का कारण भी दूषित पेयजल का पीना ही बताया गया है. सोमवार को जिला एमएमजी और संजय नगर अस्पताल में डायरिया पीड़ित करीब 400 मरीज पहुंचे हैं.

Tags: Ghaziabad News, Water Pollution



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here