गाजियाबाद में नवरात्रि पर मीट शॉप बंद करने का आदेश वापस, मेयर ने बताई अब ये वजह

0
30


गाजियाबाद. गाजियाबाद (Ghaziabad) में नवरात्रि के मद्देनजर मेयर आशा शर्मा (Mayor Asha Sharma) द्वारा जारी किया गया मांस की सभी दुकानें बंद रखने का आदेश आखिरकार वापस ले लिया गया. गुरुवार को जारी इस आदेश के बाद मांस विक्रताओं की नींद उड़ गयी थी. उनके आदेश के बाद प्रशासन ने सभी दुकानों को बंद करा दिया था, लेकिन 12 घंटे बाद ही मेयर ने अपना आदेश वापस ले लिया. महापौर ने इस संबंध में नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथिलेश कुमार सिंह को पत्र भेजकर आदेश पर अमल करने और सभी मंदिरों की साफ-सफाई के निर्देश दिए थे.

महापौर आशा शर्मा ने शनिवार को जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, नगर स्वास्थ्य अधिकारी को शनिवार को भेजे गए दूसरे पत्र में कहा गया है कि गाजियाबाद शहर में मीट-मांस की दुकानों को बंद कराने के आदेश को संशोधित किया गया है. अब उत्तर प्रदेश शासन की ओर से जारी होने वाले दिशानिर्देशों का ही पालन सुनिश्चित किया जाए.

गौरतलब है कि गाजियाबाद नगर निगम की मेयर आशा शर्मा ने एक आदेश जारी किया था जिसमें नवरात्रों के 9 दिन तक कोई भी मीट की दुकान नहीं खोलने का आदेशपत्र जारी किया था. इसके बाद से ही पूरे जिले की सभी मीट की दुकानों को बंद करा दिया गया. इसको लेकर विवाद शुरू हो गया. मीट विक्रता इसके विरोध में आ गए. दुकानदारों का कहना है कि मीट की दुकान है, आज से पहले कभी नवरात्रों में दुकानें बंद नहीं कराई गईं. अगर दुकानें बंद करनी भी हैं तो शराब की दुकानों को भी बंद कराया जाना चाहिए.

दुकानदारों ने कहा कि कल से रमजान भी शुरू है. हमारी दुकानों में लाखों के मांस उत्पाद रखे हैं. कुछ घंटे के लिए तो दुकान खोलनी चाहिए. नगर निगम की मेयर ने साफ तौर पर कहा कि ऊपर से आदेश हैं कि सभी दुकानों को बंद कराया जाए. उन्होंने एक संशोधन लेटर भी जारी किया जिसमें उन्होंने कहा कि शासन का आदेश है जिस वजह से हम नहीं सारी दुकानें बंद करा रखी हैं. उन्होंने कहा कि मंदिर के आसपास के इलाकों में सारी दुकानें बंद करा दी गई हैं. शराब और मीट का कोई भी तालमेल नहीं है इसलिए शराब की दुकानों से कोई आपत्ति नहीं है.

मेयर ने कहा शराब और मांस अलग हैं

गाजियाबाद की मेयर आशा शर्मा ने कहा कि मांस और शराब अलग-अलग हैं, उनकी बराबरी नहीं की जा सकती. यह धार्मिक भावनाओं से जुड़ा है. ऐसा हर बार होता है कि नवरात्रि के दौरान मंदिर के आसपास कच्चा मांस नहीं बेचा जा सकता है.

आपके शहर से (गाजियाबाद)

उत्तर प्रदेश
गाजियाबाद
उत्तर प्रदेश
गाजियाबाद

Tags: Ghaziabad News, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here