गाजियाबाद स्‍टंटबाजों का बना पसंदीदा अड्डा, इसलिए यहां करते हैं स्‍टंट

0
12


गाजियाबाद. जिला स्‍टंटबाजों का पसंदीदा अड्डा बनता जा रहा है. गाजियाबाद के अलावा दिल्‍ली व आसपास जिले के युवा भी यहां स्‍टंट करने आते हैं. ये लोग अपने साथ साथ सड़क पर चलने वाले दूसरे वाहन चालकों के लिए हादसे का कारण बन सकते हैं. गाजियााबाद ट्रैफिक पुलिस लगातार स्‍टंटबाजों पर नजर रखे हुए हैं और सूचना मिलते ही ऐसे लोगों पर तत्‍काल र्कारवाई की जा रही है. आइये जानें गाजियाबाद जिला स्‍टंटबाजादों की पसंद क्‍यों बनता जा रहा है.

इस वर्ष गाजियाबाद में मई माह में सबसे अधिक स्‍टंटबाजों पर कार्रवाई की गयी है. गाजियाबाद ट्रैफिक पुलिस के अनुसार इस माह के 12 दिनों में स्‍टंट करने वाले पांच लोगों पर कार्रवाई की जा चुकी है. ये लोग गाजियाबाद की विभिन्‍न सड़कों पर स्‍टंट कर रहे थे. लोगों ने इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में डाला,जिसके बाद ट्रैफिक पुलिस ने इन पर कार्रवाई करते हुए जुर्माना लगाया है.

इसलिए गाजियाबाद पसंदीदा अड्डा बना

गाजियाबाद ट्रैफिक पुलिस के एसपी रामानंद कुशवाहा बताते हैं कि गाजियाबाद में सड़कें खूब चौड़ी-चौड़ी हैं. दिल्‍ली मेरठ एक्‍सप्रेसवे, ईस्‍टर्न पेरीफेरल के अलावा कई अन्‍य सड़कें और फ्लाईओवर हैं, जो स्‍टंटबाजों के लिए पसंदीदा बनते जा रहे हैं. ये सड़कें साफ सुथरी होती हैं. एसपी ट्रैफिक बताते हैं कि स्‍टंटबाज पुलिस की गैरमौजूदगी को देखते हुए वीडियो बनाने लगते हैं. उन्‍होंने बताया कि स्‍टंट के वीडियो युवा वर्ग के लोग सोशल मीडिया में डालने के लिए बनाते हैं, ि‍जससे उन्‍हें लाइक मिलते हैं. लेकिन कई बार ये स्‍टंट स्‍वयं के साथ साथ दूसरे लोगों के लिए जानलेवा बन सकते हैं.

इस साल 12 लोगों पर कार्रवाई की जा चुकी है

गाजियाबाद ट्रैफिक पुलिस ने इस वर्ष यानी जनवरी से लेकर अब तक स्‍टंट करने वाले 12 लोगों पर कार्रवाई की है. जिसमें सबसे अधिक मई माह में कार्रवाई की गयी है.

Tags: Ghaziabad News, Ghaziabad SP Traffic, Traffic Police



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here