गाजीपुर में ओम प्रकाश राजभर समेत सपा के वरिष्ठ नेता धरने पर बैठे, जानिए वजह?

0
14


मनीष मिश्रा

गाजीपुर. उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ शुक्रवार को धरने पर बैठ गए है. ये मामला सुभासपा अध्यक्ष ओपी राजभर पर हुए हमले से जुड़ा हुआ है. गाजीपुर की जहूराबाद सीट से विधायक ओपी राजभर ने अपने ऊपर कथित हमले का आरोप लगाया था. फिलहाल पुलिस ने राजभर पर किसी भी हमले से इनकार किया है. सुभासपा प्रमुख ओमप्रकाश राजभर पर हमले में 16 लोगों को नामजद करते हुए एफआईआर दर्ज कराई थी. सभी की गिरफ्तारी की मांग करते हुए ओमप्रकाश राजभर और सपा के वरिष्ठ नेता राम गोविंद चौधरी, अम्बिका चौधरी, नारद राय समेत सैंकड़ों की संख्या में कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठ गए हैं. इस मामले में ओपी राजभर समेत दोनों पक्षों की तरफ से 32 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

विधायक ओपी राजभर का आरोप है कि करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के गौशलपुर गांव में जब वो एक व्यक्ति के यहां शोक संवेदना करने पहुंचे थे तो लाठी डंडे से लैस 10-12 लोगों ने उन्हें घेर लिया और मारपीट की कोशिश की. बात बिगड़ने लगी तो सुभासपा कार्यकर्ताओं ने उनको अपनी सुरक्षा में लेते हुए गांव के बाहर तक पहुंचाया. हमलावरों की तत्काल गिरफ्तारी और दर्ज केस वापसी की मांग करते हुए ओमप्रकाश धरने पर बैठ गए हैं. अधिकारी उन्हें समझाने की कोशिश में जुटे हैं. एसपी देहात आरडी चौरसिया समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं. धीरे-धीरे गाजीपुर के साथ ही आसपास के जिलों से भी सुभासपा कार्यकर्ता पहुंच रहे हैं. इससे कई थानों की फोर्स मौके पर बुला ली गई है.

जानिए क्या है पूरा मामला
दरअसल ओपी राजभर पर हुए हमले के मामले में दूसरे पक्ष के विश्वकर्मा सिंह ने विधायक पर ही मारपीट का आरोप लगाया है. विश्वकर्मा सिंह गौशलपुर के ही रहने वाले हैं जिनके साथ ओपी राजभर के समर्थकों को विवाद हुआ था. उनका आरोप है कि ओपी राजभर और उनके समर्थकों ने ही उनके साथ मारपीट की थी. ऐसे में मामले की जांच में जुटी पुलिस ने विपक्षियों की तहरीर पर ओपी राजभर समेत उनके 16 लोगों पर भी केस दर्ज किया है. इससे पहले सुभासपा के एक कार्यकर्ता की तहरीर पर भी 16 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था.

Tags: Akhilesh yadav, CM Yogi, Ghazipur news, Om Prakash Rajbhar, Samajwadi Party समाजवादी पार्टी, UP news, UP Police उत्तर प्रदेश, Yogi government



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here