गोरखपुर: नागपंचमी पर योगी सरकार ने किया खास ऐलान, चिड़ियाघर के शुल्क को किया आधा

0
16


हाइलाइट्स

नागपंचमी पर योगी सरकार ने पूर्वांचल को दी विशेष रियायत
गोरखपुर के चिड़ियाघर में शुल्क आधा किया

गोरखपुर: हिंदू धर्म में नागपंचमी के त्योहार का अपना विशेष महत्व है. नागपंचमी के पावन पर्व पर योगी सरकार ने पूर्वांचल के लोगों को खास सौगात दी है. नागपंचमी पर नाग देवता के दर्शन की प्राचीन परंपरा है. इस दिन नाग के दर्शन को शुभ माना जाता है. इसी परंपरा को ध्यान में रखते हुए योगी सरकार ने गोरखपुर के चिड़ियाघर में सर्पों, खासकर नाग देवता के दर्शन के लिए खिड़की से टिकट लेने पर 50 फीसदी के रियायत की घोषणा की है.

गौरतलब है नागपंचमी का त्यौहार प्रत्येक वर्ष सावन के महीने में शुक्ल पक्ष की पंचमी को मनाया जाता है. इस वर्ष देश भर में नागपंचमी का त्यौहार मंगलवार को उल्लास के साथ मनाया जाएगा. इस खास मौके पर योगी सरकार ने शहीद अशफाक उल्ला खां प्राणी उद्यान चिड़ियाघर का टिकट दर आधा कर दिया है, ताकि अधिक से अधिक लोग चिड़ियाघर जाकर नाग देवता (कोबरा) के दर्शन कर सकें. मंगलवार (2 अगस्त) को चिड़ियाघर आने वाले पयर्टकों में से 12 साल की उम्र से अधिक और 18 साल की उम्र तक के बच्चों के लिए 12.50 रुपये, जबकि 18 साल से अधिक उम्र के पयर्टकों के लिए सिर्फ 25 रुपये चुकाने होंगे.

29 जुलाई को की गई घोषणा
आपको बता दें कि 29 जुलाई को विश्व बाघ दिवस पर गोरखपुर को अंतरराष्ट्रीय सेमिनार की पहली बार मेजबानी मिली थी. इस कार्यक्रम के दौरान वन-पर्यावरण, जन्तु उद्यान एवं जलवायु परिवर्तन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ अरूण कुमार सक्सेना ने नागपंचमी पर ‘शहीद अशफाक उल्ला खां प्राणी उद्यान का प्रवेश शुल्क आधा करने के निर्देश दिए थे. उनकी घोषणा पर पर्यावरण विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज सिंह ने नागपंचमी के शुभ अवसर पर आम जनमानस को सर्पों के दर्शन के लिए खिड़की से टिकट लेने पर 50 प्रतिशत की छूट देने का निर्णय लिया है.

उन्होंने इस संबंध में लिखित दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए हैं. प्राणी उद्यान के निदेशक डॉ एच राजा मोहन ने बताया कि शासन की अनुमति मिल चुकी है. मंगलवार को प्राणी उद्यान का प्रवेश शुल्क आधा लिया जाएगा.

Tags: Chief Minister Yogi Adityanath, CM Yogi Aditya Nath, Gorakhpur news, Gorakhpur news updates



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here