चमोली के औली में लगातार बर्फबारी से बढ़ी ठंड, सैलानियों के चेहरे खिले, देखें Video

0
15


उत्तराखंड के चमोली समेत पहाड़ी क्षेत्रों में पिछले कुछ दिनों से लगातार बर्फबारी हो रही है (फाइल फोटो)

बुधवार को दोपहर के बाद हुई बर्फबारी (Heavy Snowfall) से यहां का नजारा और भी खूबसूरत दिखा. इसे देखकर सैलानियों के चेहरे खिल उठे और उन्होंने इसका पूरा लुत्फ उठाया. दरअसल प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हर दिन बर्फबारी हो रही है जिससे निचले इलाकों में ठंड (Cold) और सर्दी बढ़ गई है

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 25, 2020, 11:13 PM IST

चमोली. उत्तराखंड के चमोली जिले (Chamoli) के औली में पिछले कुछ समय से लगातार बर्फबारी (Snowfall) हो रही है. इससे यहां हर तरफ बर्फ की चादर सी बिछ गई है. ताजा बर्फबारी के बाद चमोली के प्रसिद्ध शीतकालीन क्रीड़ा स्थल औली में सैलानियों का तांता लग गया है. बुधवार को दोपहर के बाद हुई बर्फबारी (Heavy Snowfall) से यहां का नजारा और भी खूबसूरत दिखा. इसे देखकर सैलानियों के चेहरे खिल उठे और उन्होंने इसका पूरा लुत्फ उठाया. दरअसल प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हर दिन बर्फबारी हो रही है जिससे मैदानी इलाकों में ठंड (Cold) और सर्दी बढ़ गई है.

ताजा हिमपात के बाद औली की ढलानें बर्फ से पूरी तरह ढक गई हैं. यहां पहाड़ियों पर आधा से एक फीट तक बर्फ की मोटी चादर जम गई है.

बुधवार को औली के अलावा गोरसो, बद्रीनाथ, हेमकुंड, रुद्रनाथ सहित अन्य इलाकों में भी बर्फबारी हुई. औली में बर्फबारी होने के चलते यहां पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों के चेहरे भी खिल उठे हैं. कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मार्च में बंद हुए औली को अक्टूबर में सैलानियों के लिए दोबारा खोल दिया गया था, लेकिन इस दौरान सैलानियों की संख्या सीमित रही थी.

माना जा रहा है कि लगातार हो रही बर्फबारी को देखते हुए विंटर गेम्स के लिए यह सीजन अच्छा रहेगा. अच्छी बर्फबारी होने पर विंटर गेम्स संभव है. पिछले वर्ष दिसंबर में यहां बर्फ पड़ना शुरू हुआ था, जबकि इस साल नवंबर से ही यहां बर्फबारी शुरू हो गई है.


<!–

–>

<!–

–>


! function(f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function() {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
};
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
}(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here