जम्मू कश्मीर में Corona Weekend Lockdown की घोषणा, OPD सेवाएं भी रहेंगी बंद | Corona Weekend Lockdown in Jammu-kashmir, OPD services also closed | Patrika News

0
8


कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के बीच जम्मू-कशमीर प्रशासन ने भी बड़ा फैसला लिया है। घाटी में वीकेंड लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है। इस दौरान गैर-जरूरी आवाजाही पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया है। खास बात यह है कि इस दौरान ओपीडी सेवाओं को बंद करने के निर्देश दिए गए हैं।

नई दिल्ली

Published: January 15, 2022 05:07:01 pm

जम्मू-कश्मीर में कोरोना वायरस अपने पैर पसार रहा है। ऐसे में कोविड की बढ़ती रफ्तार के बीच जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने अहम फैसला लिया है। इसके तहत वीकेंड लॉकडाउन की घोषणा की गई है। यही नहीं वीकेंड लॉकडाउन के दौरान गैर-जरूरी आवाजाही पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाने के आदेश जारी कर दिए है। कश्मीर के मुख्य बाजारों समेत जम्मू संभाग में भी इसकी लगातार घोषणा की जी रही है। वहीं ओपीडी सेवाओं को बंद करने का निर्देश जारी कर दिया गया है। शनिवार सुबह से ही पुलिस गैर जरूरी चीजों की दुकानों को बंद करवा रही है। इसके साथ ही अनावश्यक आवाजाही भी बंद कर दी गई है।

अगले आदेश तक लागू रहेगा वीकेंड लॉकडाउन

सरकार की ओर से कहा गया है कि घाटी में लगाए गए प्रतिबंध अगले आदेश तक लागू रहेंगे। वीकेंड पर गैर-जरूरी आवाजाही पर पूरी तरह रोक रहेगी। यही नहीं गैर-जरूरी आवाजाही पर पूर्ण प्रतिबंध के साथ-साथ रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक रात का कर्फ्यू (Night Curfew) लागू रहेगा।

यह भी पढ़ेँः देश में 24 घंटे में कोरोना के 2.68 लाख से ज्यादा केस आए सामने, जानिए क्या है मौत का आंकड़ा

ये प्रतिबंध भी रहेंगे लागू

जम्मू-कश्मीर में कोरोना के बीच लगे प्रतिबंधों की बात करें तो इंडोर या आउटडोर कार्यक्रम में 25 से अधिक लोग शामिल नहीं हो सकते। बैंक्वेट हॉल में कोविड निगेटिव रिपोर्ट वाले 25 वैक्सीनेटिड लोग आ सकते हैं, जबकि खुले मैदान में कुल क्षमता का 25 फीसदी को अनुमति दी गई है।

जम्मू-कश्मीर में पिछले 10 दिन में दस गुणा संक्रमित मामले बढ़ गए हैं। मुख्य सचिव डॉ. अरुण कुमार मेहता ने प्रदेश की जनता से खास तौर पर वीकेंड में जब तक जरूरी ना हो किसी भी तरह की आवाजाही से बचने को कहा है। इसके साथ मंडल और जिला प्रशासन कोविड प्रोटोकाल और एसओपी के पालन को सुनिश्चित करने के लिए सभी जरूरी कदम उठाएं।

इन बातों पर जोर

– प्रदेश के करीब सभी जिलों में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। मुख्य सचिव ने लोगों के लिए टेली परामर्श के जरिए चिकित्सा सहायता प्राप्त करने को जिला कोविड हेल्पलाइन नंबरों को बढ़ावा देने को कहा।
– लोगों में बड़े पैमाने पर जागरूकता अभियान चलाने और पंचायत स्तर पर आइसोलेशन केंद्रों सहित अन्य सुविधाएं विकसित किए जाने को कहा है।
– जिला प्रशासन 15 से 17 आयु वर्ग के टीकाकरण में तेजी लाएं। इसके साथ ही RTPCR टेस्ट, आइसोलेशन और अन्य सुविधाओं को बढ़ावा देने को कहा गया।
– हर घर दस्तक अभियान में कमजोर आबादी में एहतियाती खुराक को प्राथमिकता दी जाए।

यह भी पढ़ेँः स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन बोले- राजधानी में आ चुका कोरोना का पीक, अब केसों में आएगी गिरावट

बता दें कि बीते जम्मू-कश्मीर में कोविड की तीसरी लहर नए रिकॉर्ड की ओर बढ़ रही है। शुक्रवार को घाटी में आठ माह बाद सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं। एक दिन में 2456 संक्रमित मामले मिले हैं। इसमें जम्मू संभाग से 934 और कश्मीर संभाग से 1522 मामले दर्ज किए गए हैं। सबसे ज्यादा प्रभावित जिला जम्मू है, जहां 588 केस मिले हैं। कुल सक्रिय मामले 10003 हो गए हैं।

अगली खबर





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here