जहरीली शराब पीने से मौत के मामले में IIT रुड़की की जांच से संतुष्ट नहीं हैं SSP, बोले- आईआईटी पैसे करे वापस

0
8


आईआईटी रुड़की की रिपोर्ट पर देहरादून के एसएसपी को भरोसा नहीं है.

उत्तराखंड (Uttarakhand) के पथरियापीर में सितंबर 2019 में जहरीली शराब (poisonous liquor) पीने से 10 लोगों की मौत (Death) हुई थी. जिसके बाद पुलिस (Police) ने शराब का सैंपल आईआईटी रुड़की (IIT Roorkee) को भेजा था कि पता लगाएं कि शराब जहरीली थी या नहीं. लेकिन 14 महीने के बाद भी आईआईटी रुड़की किसी ठोस नजीते पर नहीं पहुंच पाया.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 25, 2020, 6:36 PM IST

देहरादून. प्रदेश के पथरियापीर में जहरीली शराब (Poisonous liquor) पीकर लोगों की मौत (Death) के मामले में आज भी संशय बना हुआ है कि लोगों की जहरीली शराब पीकर मौत हुई है या फिर कोई और बात है. इस घटना के 12 महीने बाद भी इस मामले से अभी तक पर्दा नहीं उठ पाया है. कोतवाली थाना क्षेत्र इलाके में सितंबर 2019 में देशी शराब पीने से 10 लोगों की मौत (Death) हुई थी, लेकिन आज तक यह पता नहीं चल पाया कि शराब जहरीली थी या नहीं सितंबर में हुई इस घटना से 10 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी. बताया जा रहा था कि जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत हुई थी.

इस मामले की जांच के लिए एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने शराब के सैंपल आईआईटी रुड़की को भेजवाया था, लेकिन मामले में अभी तक आईआईटी रुड़की ने यह नहीं बताया कि शराब जहरीली थी या नहीं. इसके बाद मामले मं आईआईटी का कार्य प्रणाली से खफा होकर SSP ने आईआईटी की रिपोर्ट को वापस भेजवा दिया है.साथ ही आईआईटी रुड़की से अपने पैसे लौटाने के लिए कहा है.

हेयर ड्रेसर ने काटी विश्व हिंदू परिषद के नेता की चुटिया, FIR दर्ज, जाना पड़ सकता है जेल

साल 2019 सितंबर महीने में राजधानी देहरादून के पथरियापिर इलाके में 10 लोगों की शराब पीने की वजह से मौत हो गई थी. आनन-फानन में पुलिस महकमे के उच्च अधिकारी मौके पर पहुंचे थे और जानकारी जुटाई थी. उस समय लोगों ने बताया कि इलाके में जहरीली शराब बिक रही है, इसी को पीने के बाद 10 लोगों की मौत हुई है. मामले की गंभीरता को देखते हुए देहरादून पुलिस ने शराब की जांच के लिए सैंपल को रुड़की आईआईटी भेजवाया था.इतना किया था भुगतान
पुलिस विभान ने आईआईटी रुड़की को 3 लाख 36 हजार रुपये भुगतान भी किया था, लेकिन आईआईटी रुड़की की जांच रिपोर्ट में अभी तक शराब जहरीली थी कि नहीं इस पर सही तथ्य नहीं मिले और इसी के चलते एक बार फिर रिपोर्ट को वापस जांच के लिए भेजा है. इस बारे में एसएसपी अरुण मोहन जोशी का कहना है कि उन्होंने रुड़की आईआईटी को स्पष्ट पत्र लिखा है कि यदि उनके द्वारा मांगे गए बिंदुओं पर रुड़की आईआईटी जवाब नहीं देती है तो जांच के लिए दी गई धन राशि को लौटा दें. अन्यथा आईआईटी पर भी लीगली कार्रवाई होगी.


<!–

–>

<!–

–>


! function(f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function() {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
};
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
}(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here