जिनका नाम सुनते ही थर-थर कांपते थे आतंकी, जानें कौन थे शहीद ASI बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्र | JK Police ASI Babu Ram Conferred With Ashok Chakra Posthumously | Patrika News

0
195


अशोक चक्र से सम्मानित ASI बाबू राम देश की सेवा के दौरान 14 एनकाउन्टर का हिस्सा रहे जिसमें 28 आतंकवादियों को ढेर किया गया।

Updated: January 26, 2022 01:41:48 pm

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने आज गणतंत्र दिवस परेड में जम्मू-कश्मीर पुलिस के सहायक उप निरीक्षक बाबू राम को मरणोपरांत अशोक चक्र से सम्मानित किया। बाबू राम की विधवा रीना रानी और बेटे माणिक ने राष्ट्रपति कोविंद से पुरस्कार प्राप्त किया। ASI बाबू राम ने 29 अगस्त, 2020 को श्रीनगर में एक ऑपरेशन के दौरान तीन आतंकवादियों को मार गिराया था। उन्होंने आतंकवादियों खिलाफ अनुकरणीय साहस दिखाया था और अंततः वीरगति को प्राप्त हुए थे। ASI बाबू राम देश की सेवा के दौरान 14 एनकाउन्टर का हिस्सा रहे जिसमें 28 आतंकवादियों को ढेर किया गया।

JK Police ASI Babu Ram Conferred With Ashok Chakra Posthumously

बचपन से ही थी देश सेवा की भावना बाबू राम का जन्म 15 मई 1972 को जम्मू के पुंछ जिले में हुआ था। उनके अंदर बचपन से ही देश सेवा की भावना थी और वो देश की सेवा करना चाहते थे। अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद 1999 में जम्मू-कश्मीर में कांस्टेबल के तौर पर तैनात हुए। इसके बाद वर्ष 2002 में वो स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप का हिस्सा बने।

आतंकियों के खात्मे में हमेशा रहे आगे

SOJ रहते हुए उन्होंने आतंकवादियों के खिलाफ कई बड़े ऑपरेशन का हिस्सा बने और हमेशा आतंकियों के खात्मे के लिए आगे रहे। ये उनकी वीरता और बहादुरी ही थी जिस कारण उन्हें कई अवसरों पर न केवल सराहा गया बल्कि प्रमोशन भी दिया गया।

2020 में आतंकियों ने ASI बाबू राम की टीम पर किया था हमला 29 अगस्त 2020 की शाम श्रीनगर के प्रवेश द्वार पंथा चौक पर ASI बाबू राम अपनी टीम के साथ हाइवे पर आने-जाने वाले वाहनों पर नजर बनाए हुए थे। इस बीच स्कूटी पर तीन आतंकी आए और CRPF जवानों पर अचानक हमला कर दिया। इस दौरान इन आतंकियों ने जवानों से उनके हथियार तक छीनने के प्रयास किए।

इलाके में भीड़ होने के कारण ASI बाबू राम की टीम आतंकियों पर निशाना बना कर हमला नहीं कर सकी। आतंकियों ने मौका देख एक घर में घुस गए। इसके बाद बाबू राम ने अपनी टीम के साथ उस घर को घेर लिया और मुठभेड़ शुरू हो गई।

लश्कर कमांडर को किया था ढेर इन आतंकियों में लश्कर कमांडर शाकीब बशीर भी था जिसे ASI बाबू राम ने मौत के घाट उतार दिया। इस दौरान बाबाऊ राम भी गोली लगने से घायल हो गए और अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। इस मुठभेड़ में तीनों आतंकियों को मार गिराया गया था।
यह भी पढ़ें

आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर शेयर करें महान नेताओं के 10 प्रेरक Quotes

यह भी पढ़ें

गणतंत्र दिवस पर इस बार परंपराओं में बदलाव, जानिए परेड में आपको पहली बार कौन सी चीजें दिखेंगी

अगली खबर





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here