ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे में मिल गए ‘बाबा’! जानिए क्या हैं सियासी दलों के साथ सभी पक्षों के दावे?

0
51


वाराणसी. ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे का काम  सोमवार को पूरा हो गया और मंगलवार को कोर्ट कमिश्नर अपनी रिपोर्ट न्यायालय के समक्ष पेश कर सकते हैं. इस बीच तरह-तरह के दावे भी सामने आ रहे हैं. हिन्दू पक्ष का दवा है कि मस्जिद परिसर के अंदर मौजूद कुएं से शिवलिंग मिला है, जो कि 12.8 फ़ीट लंबा है. सर्वे टीम में शामिल वादी पक्ष के पैरोकार सोहनलाल आर्य ने दावा किया कि बाबा मिल गए हैं. उन्होंने अप्रत्यक्ष रूप से कहा कि असली शिवलिंग मिल गया है. हालांकि जिला प्रशासन ने अपील की है कि मामला कोर्ट में विचाराधीन है और कोर्ट के अगले आदेश का इंतजार है. कोई भी व्यक्ति किसी भी पक्ष के दावे पर ध्यान न दे.

उधर इस मामले में सियासी दलों की प्रतिक्रिया भी सामने आने लगी है. AIMIM के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि वहां ज्ञानवापी मस्जिद थी और क़यामत तक रहेगी. उन्होंने कहा कि जब मैं 19-20 साल का था तब हमसे बाबरी मस्जिद को छीन लिया गया था. उन्होंने मुस्लिमों से अपील की कि अब दूसरी मस्जिद नहीं खोएंगे. ज्ञानवापी मस्जिद  थी और जब तक अल्लाह इस क़यामत को बनाए रखेगा तब तक मस्जिद रहेगी.

डिप्टी सीएम ने कहा- सत्य ही शिव हैं
उत्तर प्रदेश के डिप्टी मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सत्य एक दिन सामने आ ही जाता है, क्योंकि सत्य ही शिव है. बाबा की जय. हर-हर महादेव. उधर समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता सत्येंद्र कुमार ने कहा कि बीजेपी देश के बड़े मसलों से ध्यान भटकाने के लिए इसे लेकर आई है. उन्होंने कहा कि ओवैसी वही कहते हैं, जो बीजेपी कार्यालय उन्हें लिखकर भेजता है.

डीएम और पुलिस कमिश्नर की अपील
वाराणसी के डीएम कौशल राज शर्मा ने कहा कि शांतिपूर्ण तरीके से सर्वे का काम पूरा हुआ है. अब रिपोर्ट कोर्ट में पेश होगी. जो भी फैसला देना हैं वह कोर्ट को देना है. किसी भी तरह के दावों पर कोई विश्वास न करे क्योंकि रिपोर्ट कोर्ट में पेश होनी है. यही बात पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने भी शिवलिंग मिलने के दावों पर कहा कि ऐसी कोई भी बात कोर्ट कमिश्नर की तरफ से नहीं कही गई है. लिहाजा किसी भी दावे की प्रमाणिकता नहीं हैं. गौरतलब है कि शिवलिंग मिलने के हिन्दू पक्ष के दावे के बाद तरह-तरह की चर्चाएं जोरों पर हैं. हालांकि मुस्लिम पक्ष ने सभी दावों को ख़ारिज करते हुए कहा है कि वे वाराणसी कोर्ट के उस आदेश को हाईकोर्ट में चुनौती देंगे जिसमें कहा गया है कि शिवलिंग मिलने वाले स्थान को सील कर दिया जाये.

Tags: Gyanvapi Masjid, Gyanvapi Mosque, UP latest news, Varanasi news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here