झांसी:-लंबे इंतजार के बाद बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के छात्रों को जब मिला इस योजना का लाभ,तो खिल गए चेहरे

0
9


(रिपोर्ट – शाश्वत सिंह)

6 महीने के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के छात्रों को भी योगी सरकार की डीजी शक्ति योजना का लाभ मिल गया.बुंदेलखंड विश्वविद्यालय परिसर में पढ़ने वाले 370 छात्र-छात्राओं को टेबलेट और स्मार्टफोन वितरित किए गए.पहले चरण में 16 विभाग के विद्यार्थियों को टैबलेट और स्मार्टफोन दिए गए.केंद्रीय राज्य मंत्री भानु प्रताप वर्मा तथा झांसी के सांसद अनुराग शर्मा द्वारा विद्यार्थियों को यह टैबलेट बांटे गए.इस दौरान विश्वविद्यालय कुलपति प्रो. मुकेश पांडे भी मौजूद रहे.

डीजी शक्ति योजना नवाचार को करेगीप्रेरित

इस अवसर पर मंत्री भानु प्रताप वर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की डिजिटल योजना युवाओं को नवाचार के लिए प्रेरित करेगी और विश्व स्तर पर अपनी उपस्थिति को दर्ज कराएगी.उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए संकल्पित है.डिजिटल क्रांति के द्वारा सरकार पूरे विश्व में भारत की उपस्थिति को मजबूती के साथ रखना चाहती है.मंत्री भानुप्रताप ने कहा कि बुंदेलखंड विश्वविद्यालय की अत्याधुनिक तकनीकी शिक्षण प्रणाली एक बड़ी उपलब्धि है.प्रवेश,अध्ययन,परीक्षा और दीक्षांत की नियमितता और शुचिता इस विश्वविद्यालय को बहुत ही खास बनाती है.

टैबलेट का सकारात्मक इस्तेमाल करें

कार्यक्रम में मौजूद झांसी के सांसद अनुराग शर्मा ने लाभार्थी विद्यार्थियों से व्यक्तिगत स्तर पर बातचीत की.उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि वह टैबलेट और स्मार्टफोन का इस्तेमाल सकारात्मक कार्यों के लिए करें.इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड को लेकर शुरू किए जाने वाले प्रत्येक परियोजना में वह सहयोग के लिए तैयार हैं.उन्होंने पुरातन छात्र परिषद के अध्यक्ष के रूप में 10 लाख रुपये के अनुदान की घोषणा करते हुए कहा कि इस विश्वविद्यालय के विद्यार्थी बुंदेलखंड के विकास को लेकर परियोजनाएं लायें उन्हें हर प्रकार का सहयोग अवश्य मिलेगा.

कई काम हो जाएंगे आसान

टैबलेट पाने वाले एक छात्र चिराग ने कहा कि यह टैबलेट उनके लिए काफ़ी मददगार साबित होगा.एक अन्य छात्रा अंकिता ने बताया कि मोबाइल से हर काम करना संभव नहीं हो पाता है और लैपटॉप को हम हर जगह लेकर नहीं जा सकते.ऐसे में टैबलेट मिलने से वह अपने कई काम बहुत ही आसानी से करने में सक्षम होंगी.

चुनाव से ऐन पहले हुई थी इस योजना की घोषणा

गौरतलब है कि, योगी सरकार के पहले कार्यकाल में डीजी शक्ति योजना की शुरुआत की गई थी.विधानसभा चुनाव से कुछ दिन पहले ही इस योजना को शुरू किया गया था. 25 दिसंबर को लखनऊ में योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश भर के 5 हजार विद्यार्थियों को टैबलेट और स्मार्टफोन बांटकर इस योजना का आगाज किया था.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here