ट्विन टावर के आसपास रहने वालों को अगले तीन माह झेलना पड़ सकता है जाम, जानें वजह

0
44


नई दिल्‍ली. नोएडा सेक्‍टर 93 ए स्थित सुपरटेक ट्विन टॉवर (Supertech Twin Tower) भले ही जमींदोज (demolition) हो गया हो, लेकिन इसके आसपास रहने वाले लोगों को अभी कुछ दिन ट्रफिक जाम (jam) झेलना पड़ सकता है. इसका कारण ट्विन टॉवर का करीब 80000 टन मलबा है, जिसे तीन माह के अंदर साफ करना है. निर्धारित समय में पूरा मलबा साफ करना है. आइए जानें किस तरह से लोगों को परेशानी हो सकती है.

अवैध रूप से बनी 32 मंजिला इमारतें ट्विन टावर रविवार को महज कुछ सेकेंड में जमींदोज हो गयीं. अब इसके अलग-अलग तरह के दुष्‍प्रभाव देखने को मिल रहे हैं. मलबा को हटाने के दौरान आसपास के लोगों को ट्रैफिक की समस्‍या से जूझना पड़ सकता है. हालांकि करीब 60 फीसदी मलबे को ट्विन टॉवर के बेसमेंट को भरने में खपता दिया जाएगा, इसके बावजूद 40 फीसदी यानी 32000 टन मलबे को वहां से हटाना कम चैलेंज नहीं होगा.

डेवलपर सुशील मित्‍तल बताते हैं कि ट्विन टॉवर काफी संख्‍या में डंपरों का इस्‍तेमाल करना पड़ेगा. क्‍योंकि इसे निर्धारित समय में हटाना है. 32000 टन मलबे को बाहर ले जाने के लिए आसपास की सड़कों से डंपरों का आवागमन लगातार रहेगा. इस मलबे को सेक्टर 80 के कंस्ट्रक्शन एंड डिमोलिशन मैनेजमेंट प्लांट ले जाया जाएगा, जहां इसका साइंटिफिक तरीके से निपटान होगा. डंपरों के लगातार आवागमन से आसपास की सड़कों पर ट्रैफिक का लोड बढ़ेगा, जिस वजह से जाम की संभावना बनी रहेगी.

यहां बढ़ सकता है ट्रैफिक का दबाव

. एटीएस तिराहा से गेझा फल / सब्जी मंडी तिराहा.

. एल्डिको चौक से सेक्टर 108 की ओर डबल मार्ग व सर्विस रोड 3- श्रमिक कुंज चौक से सेक्टर 92 रतिराम चौक .

. श्रमिक कुंज चौक से सेक्टर 132 की ओर फरीदाबाद फ्लाई ओवर.

.सेक्टर 128 से श्रमिक कुंज चौक तक.

. सेक्‍टर 80 की मुख्‍य रोड.

Tags: Supertech twin tower, Supertech Twin Tower case



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here