ट्विन टावर को ढहाने से पहले ट्रायल ब्लास्ट, 9 सेकेंड में धमाके के साथ जमींदोज होगा एक हिस्सा

0
112


नोएडा. नोएडा के सेक्टर-93-ए स्थित सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट में बने ट्विन टावर (Twin Tower) को पूरी तरह से ढहाने से पहले रविवार को एक टेस्ट ब्लास्ट किया जाएगा. ट्विन टावर को जमींदोज करने की तैयारी जोरों से चल रही है, इसमें जुटे अधिकारियों ने बताया कि टेस्ट ब्लास्ट रविवार को दोपहर करीब ढाई बजे होगा और इसके चलते टावर के सामने की दो सड़कें बंद रहेंगी.

अधिकारियों के मुताबिक, एमराल्ड कोर्ट परिसर में टावर संख्या 16 ‘सियान’ व टावर संख्या 17 ‘एपेक्स’ मौजूद हैं और ‘एपेक्स’ टावर में ही टेस्ट ब्लास्ट होना है. टावर को ढहाने का जिम्मा संभाल रही एडीफाइस एजेंसी के परियोजना प्रमुख मयूर मेहता ने बताया कि 5 पिलर में टेस्ट ब्लास्ट होगा और दोपहर दो बजे से पहले ही संबंधित पिलर में विस्फोटक लगाने का काम पूरा कर लिया जाएगा.

ब्लास्ट की प्रक्रिया के दौरान लोग बालकनी में भी नहीं आ सकेंगे

उन्होंने बताया कि ब्लास्ट की यह प्रक्रिया सवा 2 से पौने 3 बजे के बीच होगी और इस दौरान पटाखे जैसी आवाज आएगी. मेहता के अनुसार, टेस्ट ब्लास्ट के दौरान एमराल्ड कोर्ट और एटीएस विलेज सोसाइटी के सामने वाली सड़क पर यातायात बंद रहेगा. साथ ही लोगों को एक घंटे तक अपने फ्लैट में ही रहना पड़ेगा. यहां तक कि उनके बालकनी में आने पर भी रोक रहेगी.

ढाई बजे रिमोट से करेंगे विस्फोट

कंपनी के इंजीनियरिंग विभाग के हेड उत्कर्ष मेहता ने बताया कि ट्रायल ब्लास्ट कल 10 तारीख 2.30 बजे करेगे, बहुत छोटी मात्रा में ब्लास्ट हो रहा है इसका उद्देश्य जो विस्फोटक की तादात हम को इस्तेमाल करना है वो ज्यादा न करे ताकि मलवा न उड़े, न एकदम कम करना है अगर ऐसा होगा तो बिल्डिंग नीचे नहींं आएगी इसलिए हमको तालमेल से ब्लास्ट करना है. विस्फोटक पलवल में आ चुके हैं. पुलिस स्कॉट रात तक वहां पहुंच जाएगा. कल सुबह विस्फोटक यहां पुलिस निगरानी में आएगा.

जिसके बाद जो होल्स हमने गिराए है 13 माले पर एक कॉलम है. बेसमेंट B1 में पांच कॉलम है कुल कॉलम में होल्स गिराए हैं, जिस पर यह विस्फोटक चार्ज करेगे. करीब 3 घंटे की कल की तैयारी के बाद 2 बजकर 30 मिनट पर यह ब्लास्ट किया जाएगा.

3 सेकेंड में हो जाएगा ब्लास्ट

कंपनी के इंजीनियरिंग विभाग के हेड ने बताया कि ये ब्लास्ट कम 2 से 3 सेकेंड में हो जाएगा. न मिट्टी उड़ने वाली है न कुछ और दिक्कत आएगी. केवल आवाज सुनाई देगी. ये विस्फोटक बहुत छोटा है. आसपास को लोगो को किसी को घर के बाहर नही जाना है. बस वो आधा घण्टा नीचे न घूमे. घरों में रहें, बस अपनी बालकनी में न आएं. जिन कॉलम में ब्लास्ट होगा, वो सब इमारत के अंदर तरफ़ हैं.

22 अप्रैल का बेसिक प्लान हो गया है. बाकी कल टेस्ट ब्लास्ट के बाद के 10 दिन महत्वपूर्ण है. आगे की तैयारी को देखते हुए. IT एक्सपर्ट चेन्नई से आए हैं, वाइब्रेशन कंट्रोल के लिए चार लोकेशन पर वारबेशन को मॉनिटर किया जाएगा, कि कुछ आता है तो क्या आता है.

गेल की गैस पाइपलाइन पर लगाएंगे सेंसर 

हमने तय किया है दो सेंसर हम गेल की पाइपलाइन पर लगाएंगे, एक ATS में एक एमरल्ड में लगाया जाएगा. सेंसर से हमें यह समझना है ब्लास्ट से कुछ भी बाइब्रेशन हुआ या नहीं, अगर हुआ तो कितना हुआ, इसे मॉनिटर किया जाएगा. मुख्य ब्लास्ट के दिन 10 पॉइंट पर काम करेंगे. इसके पहले हमारी कंपनी ने कोच्चि में 62 मीटर लंबी इमारत ध्वस्त की थी, पर ये 103 मीटर लंबी है जितनी लंबी बिल्डिंग को फर्क नहीं पड़ता है.

इसको ऐसे समझेंगे आप की अगर आप खड़े हैं और आपके पैर काट दें तो आप नीचे गिर जाएंगे. बिल्डिंग खुद के वजन से नीचे आएगी बस देखना यह है की जिस दिशा में हमको चाहिए उस तरह नीचे गिरे. इसके लिए एक्सपर्ट टीम साउथ अफ्रीका से आई है.

जोसफ़ बिग्स पेन का ये मास्टर प्लान है, इसलिए कहा जाता है डिमोलिश मेन

जोसफ़ बिग्स पेन का ये मास्टर प्लान है उन्हें डिमोलिश मेन कहा जाता है, वो विश्व मे टॉप 3 डिमोलिश मेन में गिने जाते हैं. जेड डिमोलिश के मैनेजिंग डायरेक्टर हैं, 45 साल से वो यही काम कर रहे हैं और माइनिंग इंजीनियर हैं. बिल्डिंग के बाहर की सड़क ब्लाॅक करेंगे, ताकि लोग न आए, कुछ पैनिक न करें, सेफ्टी के लिए सड़क बंद करेंगे.

विस्फोटक करीब 5 किलो से कम आएगा

कल विस्फोटक करीब 5 किलो से कम आएगा, जिसमें ब्लास्ट होगा. ब्लास्ट के बारे में बताया है कि बिल्डिंग में टोटल 24 होल्स हैं. हर ब्लॉक में 20 ग्राम के करीब विस्फोटक डालेंगे. किसी मे 60 ग्राम ताकि हमे अनुमान लग जाएगा किस होल्स में कितना विस्फोटक डालने से कितना डेमेज होता है, जिससे फाइनल ब्लास्ट में मदद मिल जाए.

आपके शहर से (नोएडा)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Supertech Emerald Tower, Supertech twin tower, Supertech Twin Tower case



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here