तांत्रिक के कहने पर मुस्लिम परिवार ने घर की खुदाई, मिले शंख-त्रिशुल, पहुंची पुलिस और फिर…

0
12


गोरखपुर. गोरखपुर के गगहा इलाके के जगदीशपुर भलुआन गांव में एक मुस्लिम परिवार के घर में खुदाई के दौरान हिंदू धर्म से जुड़े सामान मिलने से सनसनी फैल गई. जो सामान खुदाई के दौरान मिले, उनमें मंदिर का घंटा, शंख, त्रिशूल, बर्तन सहित कई लोहे और पीतल से बने पूजा-पाठ के सामान शामिल हैं. इसके अलावा मोटी-मोटी हड्डियां भी निकली हैं. पुलिस ने सारा सामान कब्जे में लेते हुए इसकी जानकारी पुरातत्व विभाग को दी है.

जगदीशपुर भलुआन गांव के नया चौराहा के रहने वाले नूर मोहम्मद के सभी बच्चों की शादी हो चुकी है लेकिन बेटियों में किसी को बच्चा नहीं हुआ. इसे लेकर उनका परिवार काफी परेशान था. पुलिस के मुताबिक इलाज के अलावा उन्होंने तंत्र-मंत्र का भी रास्ता अपनाया. नूर मोहम्मद के बड़े दामाद गगहा निवासी आलम शेख की मुलाकात गोरखपुर में मौलवी से हुई. मौलवी ने बताया कि उनके घर में ही दोष है. किसी ने कुछ जादू-टोना कराकर घर में कुछ गाड़ दिया है, जिसकी वजह है कि बेटियों को बच्चे नहीं हो रहे हैं.

इतना ही नहीं, मौलवी ने यह भी बताया कि घर में ऐसी संदिग्ध वस्तुओं के गड़े होने से घर की सुख-शांति भी भंग हो गई है. मौलवी के कहने के मुताबिक आलम शेख ने इसका उपचार शुरू किया. मौलवी के बताई जगह पर मंगलवार को घर में खुदाई शुरू करा दी. जमीन की मिट्टी करीब चार फिट तक निकाले जाने के बाद उसमें एक मटका मिला. उसमें दीपक, घंटा, त्रिशूल, बर्तन, लोहे के कुछ सामान और हड्डियां मिलीं. सूचना पाकर पुलिस पहुंची और पूरा सामान कब्जे में ले लिया.

बौद्ध संग्राहलय के उपनिदेशक मनोज गौतम का कहना है कि सुराही और लोटा 18वीं ईस्वी के लग रहे हैं. जो जांच के बाद पता चल पायेगा कि कितना पुराना है, अन्य जितने भी सामान मिले हैं, सब पुरातत्व से जुड़े हुए नहीं है. अभी सभी सामान गगहा थाने में है.

Tags: Ajab ajab news, Gorakhpur news, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here