तुर्की और इटली के मैच से यूरो कप का आगाज, गूगल ने भी बनाया खास डूडल-UEFA EURO 2020 Google Doodle marks the start of European Football Championship with Turkey take on with Italy in opening match

0
18


नई दिल्ली. कोरोना वायरस के कारण एक साल के लिए टला यूरो कप का आगाज हो रहा है. देर रात तुर्की और इटली के बीच रोम के ओलंपिक स्टेडियम में यूरो 2020 का पहला मैच खेला जाएगा. टूर्नामेंट को यादगार बनाने के लिए गूगल ने खास डूडल बनाया है. गूगल हमेशा से ही विशेष मौकों पर डूडल बनाता है. फीफा विश्व कप के बाद यूरो कप फुटबॉल का सबसे बड़ा टूर्नामेंट है. लोगों में इसकी दीवानगी देखते हुए गूगल ने ये डूडल तैयार किया.

यूरो 2020 इस बार कई मायनों में खास है. टूर्नामेंट के 60 साल के इतिहास में पहली बार मुकाबले 11 अलग-अलग शहरों में होंगे. अब तक इस टूर्नामेंट की ज्यादा से ज्यादा 2 देशों ने मेजबानी की है. इस बार लंदन, ग्लास्गो, कोपेनहेगन, सेविल, बुडापेस्ट, एम्सर्टडम, रोम, म्यूनिख, बाकू, बुखारेस्ट और सेंट पीटर्सबर्ग में मैच होंगे.

2021 में होने के बाद भी टूर्नामेंट को यूरो 2020 नाम दिया

यूरो 2020 पिछले साल 12 जून से 12 जुलाई तक होना था. लेकिन कोरोना महामारी के कारण इसे साल भर के लिए टालना पड़ा. फिर भी इसे यूरो 2020 ही कहा जा रहा है. ऐसा इसलिए क्योंकि 1960 में यूरोपियन फुटबॉल चैम्पियनशिप का आगाज हुआ था. 2020 में इसके 60 साल पूरे हुए थे. ऐसे में यूईएफए ने इसका जश्न मनाने की तैयारी की थी. लेकिन कोरोना के कारण ये संभव नहीं हो पाया. ऐसे में संगठन ने 60 साल पूरा होने का जश्न मनाने के लिए 2021 में होने वाली चैम्पियनशिप को भी यूरो 2020 का ही नाम दिया.तुर्की और इटली के बीच पहला मैच

यूरो कप का आगाज तुर्की और इटली के मैच से होगा. ये मुकाबला देर रात 12.30 बजे रोम के ऐतिहासिक ओलंपिक स्टेडियम में होगा. फिलहाल, इटली में कोरोना वायरस काबू में है. ऐसे में स्टेडियम में फैंस को आने की अनुमति होगी. हालांकि, संख्या सीमित रहेगी. जानकारी के मुताबिक, इस मैच के लिए स्टेडियम में 20 फीसदी दर्शकों को अनुमति दी जा सकती है.

कोरोना को लेकर टूर्नामेंट में नियम बदले

पिछले साल यूईएफए की कार्यकारी समिति ने कोरोना के कारण 5 सब्सटिट्यूट का इस्तेमाल करने की इजाजत दे दी थी. पहले 3 ही सबस्टिट्यूट की मंजूरी थी. इसके साथ ही टीम एक्स्ट्रा टाइम, फुल टाइम (90 मिनट) के बाद छठा सब्सटिट्यूट भी इस्तेमाल कर सकेगी. हालांकि, टीमों को फुल टाइम तक सिर्फ तीन बदलाव के ही मौके मिलेंगे. अतिरिक्त समय में चौथा मौका मिलेगा.

आखिर 2021 में हो रहे यूरो कप को क्यों कहा जा रहा Euro 2020 ?

यूरो 2020 का फाइनल लंदन में खेला जाएगा

टूर्नामेंट में कुल 24 टीमें हिस्सा ले रही हैं, जिन्हें अलग-अलग 6 ग्रुप में बांटा गया है. डिफेंडिंग चैम्पियन पुर्तगाल ग्रुप-एफ में है, जबकि फीफा विश्व कप जीतने वाली टीम फ्रांस भी इसी ग्रुप में है. हर ग्रुप की दो शीर्ष टीमें यानी 12 और चार तीसरे स्थान पर रहने वाली टीमें राउंड ऑफ 16 के लिए क्वालिफाई करेंगी, जो 26 जून से शुरू होगा. ग्रुप स्टेज के मुकाबलों की मेजबानी भी अलग-अलग शहर करेंगे. ग्रुप-ए के मैच रोम और बाकू में होंगे. ग्रुप-बी के सेंट पीटर्सबर्ग और कोपनहेगन, ग्रुप-सी के मैच बुखारेस्ट और एम्सटर्डम में खेले जाएंगे.

इसके अलावा लंदन, ग्लास्गो में ग्रुप डी, सेविला और सेंट पीटर्सबर्ग में ग्रुप-ई के मैच होंगे. म्यूनिख और बुडापेस्ट में ग्रुप-ए में शामिल टीमें अपने मुकाबले खेलेंगी. टूर्नामेंट का सेमीफाइनल और फाइनल लंदन के वेम्बले स्टेडियम में होगा.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here