दिल्ली सरकार ने 14 वैक्सिनेशन सेंटरों को लिस्ट से हटाया, अब इतने सेंटरों पर लगेगा कोरोना का टीका

0
28


दिल्ली सरकार ने कोरोना वैक्सीनेशन सेंटरों में कमी की है.

दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने 16 जनवरी को होने वाली वैक्सिनेशन (Vaccination) ड्राइव के लिए 89 सेंटर बनाए गए थे, जिसमें से 14 सेंटरों को कम कर दिया है. सरकार का कहना है कि अभी कम वैक्सिनेशन सेटरों (Vaccination Center) में ही काम हो जाएगा.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 13, 2021, 8:23 PM IST

नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) में 16 जनवरी को होने वाली वैक्सिनेशन (Vaccination) ड्राइव के लिए 89 सेंटर बनाए गए थे, लेकिन अब सरकार ने इसमें कुछ बदलाव किया है और 14 सेंटरों को कम किया है. सरकार (Government) का मानना है कि अभी कम सेंटरों से ही काम चल सकता है. 14 सेंटरों की कटौती करने के बाद अब 75 सेंटर होंगे, जिनके कोरोना वैक्सिनेशन किया जाएगा.

इन सेंटरों पर नहीं होगा वैक्सिनेशन
सेंट्रल दिल्ली में जीवन माला हॉस्पिटल, ईस्ट दिल्ली में जीवन अनमोल हॉस्पिटल, नॉर्थ दिल्ली में विनायक हॉस्पिटल, नॉर्थ-वेस्ट दिल्ली में राजीव गांधी कैंसर हॉस्पिटल और ब्रह्म शक्ति हॉस्पिटल, शहादरा में दिल्ली स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट और गोयल हॉस्पिटल, वहीं साउथ दिल्ली में मेडर हॉस्पिटल, ईस्ट साउथ दिल्ली में नेहरू होम्योपैथिक कॉलेज, भगत चंद्र हॉस्पिटल, दिव्य प्रस्थ हॉस्पिटल, वेस्ट दिल्ली में सत्यभामा हॉस्पिटल, खेत्रपाल हॉस्पिटल, सेहगल नियो हॉस्पिटल शामिल हैं.

Corona Vaccine लगाने में मदद नहीं करेंगे दिल्ली नगर निगम के शिक्षक, 5 माह से नहीं मिला है वेतनकल यानी कि 12 जनवरी को पुणे से कोविड-19 वैक्सीन की पहली खेप दिल्ली पहुंच गई है. वैक्सीन पहुंचने के मद्देनजर इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सुरक्षा बढ़ा दी गई थी, क्योंकि यहीं से टीके शहर के विभिन्न हिस्सों में पहुंचाए जाने थे. देश में कोरोना वायरस के खिलाफ निर्णायक लड़ाई का आरंभ करते हुए 16 जनवरी को टीकाकरण मुहिम की शुरुआत से चार दिन पहले ‘स्पाइजेट’ का विमान टीकों के साथ सुबह करीब 10 बजे दिल्ली हवाई अड्डे पहुंचा. वह सुबह करीब आठ बजे पुणे हवाई अड्डे से रवाना हुआ था. अगले तीन दिन बाद कोरोना वैक्सीनेशन का काम देश में शुरू हो जाएगा. इसके बाद देश को कोरोना से राहत मिलने की उम्मीद है. इसेक लिए दिल्ली सरकार ने पहले 89 केंद्र बनाएं थे, लेकिन अब इनमें 14 केंद्र कम किए गये हैं.


<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here