दिल्‍ली को मिली 2.74 लाख कोरोना वैक्‍सीन की डोज, सीएम केजरीवाल बोले- सप्‍ताह में चार दिन लगेंगे टीके

0
35


दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने बताया कि कोरोना का टीका सप्‍ताह में चार दिन (सोमवार, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार) लगाए जाएंगे. इसकी शुरुआत 16 जनवरी से की जाएगी.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 14, 2021, 12:53 PM IST

नई दिल्‍ली. देशभर में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए टीका लगाने की तैयारियां जोरों पर है. राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में भी इस बाबत योजना तैयार कर ली गई है. मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 14 जनवरी को बताया कि फिलहाल दिल्‍ली के 81 सेंटर्स पर कोरोना वैक्‍सीन लगाई जाएगी. शुरुआत में हर सेंटर पर 100 लोगों को टीका लगाया जाएगा.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि आने वाले कुछ दिनों में 175 फिर 1000 सेंटर्स पर कोरोना वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम चलाया जाएगा. सीएम केजरीवाल ने केंद्र से कोरोना वैक्‍सीन का 2,74,000 डोज मिलने की बात कही है. साथ ही उन्‍होंने बताया कि कोरोना का टीका सप्‍ताह में चार दिन (सोमवार, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार) लगाए जाएंगे. इसकी शुरुआत 16 जनवरी से की जाएगी.

सीएम ने कहा कि अब तक हमें केंद्र से वैक्सीन की 2,74,000 खुराकें मिली हैं.  प्रत्येक व्यक्ति को दो खुराक दी जाएंगी. उन्होंने कहा कि हमने 10% एक्स्ट्रा टीके मिले हैं. ऐसे में 2,74,000 खुराक लगभग 1,20,000 स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए पर्याप्त होगी. बीते सोमवार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने घोषणा की है कि कोरोना टीकाकरण अभियान के पहले चरण में तीन करोड़ लोगों, स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों के टीकाकरण का खर्च केंद्र सरकार वहन करेगी. साथ ही उन्होंने स्पष्ट किया कि इस चरण में जनप्रतिनिधियों को शामिल नहीं किया जाएगा.

आगामी 16 जनवरी से आरंभ हो रहे देशव्यापी टीकाकरण अभियान के पहले प्रधानमंत्री ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से संवाद किया और कहा कि कोविड-19 के लिए टीकाकरण पिछले तीन-चार हफ्तों से लगभग 50 देशों में चल रहा है और अब तक केवल ढाई करोड़ लोगों को टीके लगाए गए हैं जबकि भारत का लक्ष्य अगले कुछ महीनों में 30 करोड़ लोगों को टीका लगाना है. मोदी ने यह भी कहा कि देश में तैयार कोरोना के दोनों टीके दुनिया के अन्य टीकों के मुकाबले किफायती हैं और उन्हें देश की स्थितियों व परिस्थितियों के अनुरूप निर्मित किया गया है.


<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here