देवरिया में प्रिंसिपल का सामने आया घिनौना चेहरा, कॉलेज की लड़कियों का आरोप- कहते थे टच मी, FIR दर्ज

0
33


देवरिया. उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में महिला डिग्री कॉलेज के प्रभारी प्रिंसिपल का घिनौना चेहरा सामने आया है. आरोप है कि प्रभारी प्रिंसिपल राजेश भारती पर आरोप है कि वह कॉलेज की लड़कियों को बातों में फंसाकर अपने सरकारी आवास पर बुलाता था और फिर उन्हें गलत तरीके से टच करता था. यानी उनके साथ छेड़खानी करता था. मामला सामने आने के बाद राजेश भारती को पद से हटा दिया गया है. वहीं छात्रों और टीचरों ने मोर्चा खोल दिया गया है. बताया जाता है कि प्रभारी प्राचार्य कालेज कैंपस छोड़कर फरार हो गए हैं. इस पूरे मामले में कई वीडियो भी वायरल हो रहे हैं. जिसमें कार्यवाहक प्राचार्य अपने सरकारी आवस में कई लड़कियों के साथ कई घंटे रहते थे.

शिक्षा राज्य मंत्री ने दिए जांच के आदेश
घटना सामने आने के बाद माध्यमिक शिक्षा राज्य मंत्री गुलाब देवी ने भी इस मामले में जांच कमेटी बनाने के निर्देश दे दिए हैं. उधर, एक लड़की का तो प्रिंसिपल भारती की कार में बैठने का वीडियो भी वायरल हुआ है. फुटेज में देखा गया कि लड़की प्रिंसिपल के सरकारी घर से निकलकर उसकी कार में बैठ जाती है. इस मामले में पड़ोसियों ने भी शिकायत की थी. मामला सामने आया तो तुरंत भारती को पद से हटा कर जांच समिति गठित कर दी गई है. वहीं, कोतवाली पुलिस ने आरोपी प्रिंसिपल पर केस दर्ज कर लिया है.

कई लड़कियों के साथ छेड़खानी 
छात्राओं का कहना है कि जो यहां के प्रिंसिपल राजेश भारती लड़कियों को स्कूल का ड्रेस ना पहनने के लिए कहते थे और टी शर्ट और लोवर पहन कर स्कूल में आने के लिए लगातार दबाव बनाते थे और कई लड़कियों के साथ छेड़खानी की वारदात को अंजाम देते थे. हालांकि लड़कियों ने इस बात की पुष्टि की है जिन लड़कियों के साथ प्रिंसिपल का आना-जाना था. वह इसी महाविद्यालय में पढ़ती हैं और उन्हें प्रैक्टिकल में अच्छे नंबर दिए जाते थे. इस कॉलेज की प्रोफेसर राखी भारती ने कहा, मेरे पास 5-6 लड़कियों की शिकायत आई कि प्रभारी प्राचार्य अपने आवास पर लड़कियों को ले जाते हैं.

पीड़ित लड़कियों ने दिए सबूत
मैंने लड़कियों से कहा कि किसी के चरित्र के बारे में ऐसा नहीं सोचते. लेकिन लड़कियों ने सबूत दिए तो मैंने राजेश भारती को आगाह किया कि ऐसा मत करिए. यह प्रतिष्ठित कॉलेज है. पहले तो भारती ने ऐसा कोई कृत्य करने से मना किया और फिर बाद में स्वीकार कर लिया. और दोबारा ऐसा नहीं करने को कहा. लेकिन फिर भी नहीं माने. पुलिस के मुताबिक आरोपी प्रभारी प्रिंसिपल राजेश भारती के खिलाफ आईपीसी की धारा 354 और 166 के तहत मुकदमा मुकदमा दर्ज किया गया है. फिलहाल पुलिस की जांच पड़ताल जारी है.

Tags: CM Yogi, College education, Deoria crime news, Deoria news, Molestation, UP news, UP Police उत्तर प्रदेश, Yogi government



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here