देश की पहली रैपिड रेल का तकनीकी परीक्षण अगले माह, जानें कब शुरू होगा ट्रैक पर परीक्षण?

0
13


नई दिल्‍ली. देश की पहली रैपिड रेल (Regional Rapid Transit System) का तकनीकी परीक्षण गाजियाबाद स्थिति दुहाई डिपो पर अगले माह से शुरू हो रहा है. गुजरात से गाजियाबाद पहुंचे छह कोचों को रैपिड रेल (rapid rail) पटरी पर उतर गयी है. नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (एनसीआरटीसी) के इंजीनियरों ने रैपिड रेल के कोच को जोड़ दिया. तकनीकी परीक्षण शुरू करने की दिशा में तेजी से काम किया जा रहा है.

आरआरटीएस (RRTS) के मुख्‍य जनसंपर्क अधिकारी पुनीत वत्‍स ने बताया कि फिलहाल डिपो में बिजली की लाइनों, ओएचई सहित अन्य उपकरणों को अंतिम रूप दिया जा रहा है. ट्रैक पर परीक्षण की नवंबर तक शुरू होने की संभावना है. तीन से चार माह तक ट्रैक पर परीक्षण चलेगा. इसके बाद मार्च 2023 तक साहिबाबाद से दुहाई तक पहले खंड पर रैपिड रेल दौड़ने लगेगी.

दुहाई डिपो में होने वाले तकनीकी परीक्षण में ट्रेन के अंदर और संचालन से जुड़ी सभी प्रणालियों को जांचने का काम किया जाएगा. तकनीकी परीक्षण के लिए डिपो के अंदर इंटरनल-बे लाइन को तैयार किया जा चुका है. इसके अलावा डिपो में 11 स्टेबलिंग लाइन, दो वर्कशॉप लाइन, तीन इंटरनल-बे लाइन (आईबीएल) और एक हेवी इंटरनल क्लीनिंग लाइन के साथ एक वर्कशॉप और एक इंटरनल-बे लाइन का काम अंतिम चरण में है.

17 किमी. के खंड में दौड़ेंगी 13 ट्रेन

दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ तक 82 किमी लंबे रैपिड रेल कॉरिडोर प्रस्तावित है. 29 रैपिड रेल का निर्माण कार्य गुजरात सांवली में एलस्ट्रोम प्लांट में तेजी से किया जा रहा है. साहिबाबाद से दुहाई तक 17 किमी लंबे पहले खंड में13 ट्रेनों का संचालन होगा. इसके बाद दुहाई से मेरठ दक्षिण तक का दूसरा खंड अक्तूबर 2023 में शुरू होने की संभावना है.

Tags: Delhi-Meerut RRTS Corridor, New train



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here