नकली चॉकलेट से सावधान! भोपाल में बच्चों की सेहत खिलवाड़, एक फैक्ट्री पर छापेमार कार्रवाई

0
33


भोपाल की फैक्ट्री में छापा.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में नकली चॉकलेट, टॉफी से सावधान हो जाइए. क्योंकि यहां पर ऐसे कारखाने चल रहे हैं, यहां पर सेहत के साथ खिलवाड़ करते हुए चॉकलेट टॉफी को बनाया जा रहा है.

भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में नकली चॉकलेट, टॉफी से सावधान हो जाइए. क्योंकि यहां पर ऐसे कारखाने चल रहे हैं, यहां पर सेहत के साथ खिलवाड़ करते हुए चॉकलेट टॉफी को बनाया जा रहा है. आप अपने बच्चों को चॉकलेट या टॉफी  खिला रहे हैं तो जरा सावधान हो जाइए. ऐसे ही एक कारखाने पर क्राइम ब्रांच (Crime Branch) और खाद्य विभाग की संयुक्त टीम में कार्रवाई की. खाद्य विभाग की टीम ने चॉकलेट टॉफी के अलग-अलग सैंपल लिए. ओल्ड भोपाल के कबाड़खाना मैकेनिक क्षेत्र में स्थित मिलन स्वीट्स चाकलैट बनाने वाली कंपनी पर क्राइम ब्रांच और खाद्य विभाग की छापेमार कार्रवाई हुआ.

इस कार्रवाई में क्राइम ब्रांच के अधिकारी समेत खाद्य विभाग के दोखाद्य सुरक्षा अधिकारी शामिल थे. थाना क्राइम ब्रांच भोपाल को मुखबिर दी थी कि मिलन स्वीट्स चाकलैट कंपनी के द्वारा खाद्य व्यंजनो में उपयोग में आने वाले कलर और अन्य सामग्री में मिलावटखोरी कर अवमानक कलर के साथ सामग्री के उपयोग किया जा रहा है. सूचना पर खाद्य विभाग और क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम ने मिलकर मिलन स्वीट्स चाकलैट नाम की कंपनी पर विभिन्न खाद्य पदार्थो में नियमित रूप से उपयोग में आने वाले चॉकलेट और मिठाईयों के कुल 08 नमूनों की सैम्पलिंग ली गई.

2 साल से बन रही थी चोकलेट
मिलन स्वीट्स चाकलैट कंपनी के मालिक सतरामदास निवासी ओल्ड सिन्धी कालोनी है. उनकी कंपनी करीब 2 साल से संचालित है. मिलन स्वीट्स चाकलैट कम्पनी चाकलेट टाँफी बनाती है, जिनके 08 नमूनो के सेम्पल खाद्य सुरक्षा अधिकारी खाद्य सुरक्षा अधिकारी अर्चना प्रभाकर रीता शुक्ला महेंद्र परते ने लिए. कंपनी में प्रतिदिन 200 से 300 किलोग्राम टॉफी और चॉकलेट की पैकिंग की जाती है. जिसकी कीमत 25 हजार रुपये के करीब होती है. महीने के करीब 9000 किलोग्राम टॉफी और चाकलेट की पैकिंग की जाती है. जिसका मासिक टर्नओवर करीब 7-8 लाख रूपये होता है.शिकायत के लिए नंबर किए जारी

खाद्य पदार्थो में मिलावटखोरी रोकने के लिये क्राइम ब्रांच और खाद्य विभाग की संयुक्त कार्यवाही की गई है. यह कार्रवाई आगे भी लगातार जारी रहेगी.  जनता से अपील है कि उनके संज्ञान में यदि कही असुरक्षित, अस्वास्थकर खाद्य पदार्थों का निमार्ण हो रहा हो तो उसकी सूचना क्राइम ब्रांच थाना (0755-2443212) और खाद्य विभाग 0755-2665385 को दे सकते हैं.


<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here