नेशनल कबड्डी प्लेयर ने महाराष्ट्र बोर्ड 10वीं में 100% अंक लाकर किया टॉप

0
23


महाराष्ट्र बोर्ड की दसवीं की परीक्षा में इस साल 17 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स शामिल हुए थे.

Maharashtra SSC Board Result 2020: महाराष्ट्र बोर्ड की दसवीं की परीक्षा के नतीजों का ऐलान हाल ही में किया गया. इस साल दसवीं का कुल परिणाम 95.30 प्रतिशत रहा.

नई दिल्ली. महाराष्ट्र बोर्ड (Maharashtra Board) ने दसवीं क्लास के नतीजों का ऐलान 29 जुलाई को कर दिया था. इस बार दसवीं में 95.30 प्रतिशत छात्र-छात्राएं सफल रहे. इन्हीं सफल स्टूडेंट्स में एक नाम परभानी जिले की सिद्धि शर्मा (Siddhi Sharma) का भी है, जिन्होंने 100 प्रतिशत अंक हासिल करके महाराष्ट्र बोर्ड की दसवीं की परीक्षा में टॉप किया. दिलचस्प बात ये है कि सिद्धि शर्मा राष्ट्रीय स्तर की कबड्डी खिलाड़ी भी हैं. उन्होंने पिछले साल आयोजित हुए खेलों इंडिया टूर्नामेंट में भी हिस्सा लिया था.

घर से 8 किलोमीटर दूर है स्कूल
सिद्धि शर्मा मनवत की रहने वाली हैं और देवनंद्रा स्थित माध्यमिक ​स्कूल में पढ़ाई करती हैं. ये स्कूल उनके घर से आठ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. सिद्धि शर्मा ने बताया, कबड्डी खेलने से मुझे पढ़ाई में भी फायदा हुआ. इससे मैं मानसिक और शारीरिक रूप से फिट रही और पढ़ाई का दबाव व तनाव दूर करने में भी मदद मिली. मेरे दोस्त बोर्ड एग्जाम को लेकर तनाव में रहते थे, लेकिन मैं दिन में करीब चार घंटे प्रैक्टिस करती थी, जिससे मुझे तनाव को दूर रखने में सफलता मिली. सिद्धि ने बताया कि वे दसवीं की पढ़ाई के दौरान भी कबड्डी टूर्नामेंट्स में हिस्सा लेती थीं.

इस तरह कबड्डी में बढ़ी रुचिसिद्धि शर्मा के पिता दीपक शर्मा महाराष्ट्र में एक को-आपरेटिव संस्था में सोलर उपकरणों की मरम्मत का काम करते हैं. रिजल्ट के बारे में जब दीपक शर्मा से पूछा गया तो उन्होंने कहा, मेरी बेटी ने पढ़ाई और खेल में बेहतरीन संतुलन कायम करते हुए सौ प्रतिशत अंक हासिल किए हैं. पिता दीपक शर्मा ने बताया, मैं और सिद्धि टीवी पर प्रो कबड्डी लीग के मैच देखा करते थे. धीरे-धीरे सिद्धि की रुचि इस खेल में बढ़ती गई.

ये भी पढ़ें
स्कूल-कॉलेज खोले जाने को लेकर आई बड़ी खबर, केंद्र सरकार ने लिया ये फैसला
New Education Policy: नई शिक्षा नीति के कारण ऐसे आएंगे बदलाव, जानें सब कुछ

सिद्धि शर्मा के कोच मंगल पांडे के अनुसार, मराठवाडा में खेल ढांचा अभी बहुत विकसित नहीं हुआ है. खासकर मनवत एक ग्रामीण इलाका है, जहां सुविधाओं का अभाव है. बावजूद इसके सिद्धि शर्मा दो साल की प्रैक्टिस के बाद ही खेलो इंडिया समेत अन्य स्टेट कंपीटीशन में हिस्सा लेने लगीं.


<!–

–>

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए
फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here