नैनीतालः बिजली विभाग के बिल से लगा ‘करंट’, 1 बल्ब के कनेक्शन पर 1800 तो किसी को 20000 रुपए का भेजा बिल

0
6


बेतालघाट ब्लॉक में लाइट तो यहां आए दिन गायब रहती है लेकिन बिल बिजली विभाग ने यहां के हज़ारों के थमा दिए हैं.

नैनीताल (Nainital) के बेतालघाट ब्लॉक में ग्रामीणों को बिजली विभाग ने 1800 रुपए से लेकर 20000 रुपए तक का बिल (Electricity Bill) भेजा. हजारों रुपए के बिल आने से गुस्से में हैं लोग. एक बल्ब वाले कुटीर ज्योति कनेक्शन धारक भी सैकड़ों रुपए के बिल देखकर हैरान.

नैनीताल. कोरोना महामारी (COVID-19 Pandemic) की वजह से रोज़गार खत्म हो चुके हैं और उस पर बिजली के बिल (Electricity Bill) इतने भारी आ गए कि पूरे इलाके के लोगों में 440 वोल्ट का करंट दौड़ने लगा. बात नैनीताल (Nainital) के बेतालघाट ब्लॉक की है, जहां इस बार लोगों को हज़ारों के बिल थमा दिए गए हैं. इसकी वजह से अब बेतालघाट में करंट बिजली के तारों के साथ ही लोगों में गुस्से का भी दौड़ रहा है. बेतालघाट ब्लॉक की जनसंख्या 40 हज़ार से ज्यादा है और बिजली के मामले में सभी गांवों की स्थिति एक जैसी है.

सभी गांवों में एक सी हालत

राज्यमंत्री पीसी गोरखा के डण्डेसारी गांव के लोगों ने बिजली बिलों में बढ़ोतरी का विरोध किया है. सिर्फ डंडेसारी ही नहीं यह हाल पूरे बेतालघाट ब्लॉक का है. लाइट तो यहां आए दिन गायब रहती है, लेकिन बिल बिजली विभाग ने यहां के हज़ारों के थमा दिए हैं. न्यूज़ 18 ने देखा कि ब्लॉक में 1800 से 20 हज़ार तक आने से बिजली के बिल विभाग ने दिए हैं. बेतालघाट ब्लॉक की जनसंख्या 40 हज़ार से ज्यादा है और बिजली के मामले में सभी गांवों की स्थिति एक जैसी है.

ये भी पढ़े  OLX के नाम पर ठगी करने वाले 4 राजस्थान से गिरफ़्तार... देहरादून में दर्ज थे ठगी के दो मामले

180 से हुआ 1800हज़ारों के बिलों को देख जनता में गुस्सा इस कदर दिख रहा है कि न्यूज 18 संवाददाता से बात करते हुए लोगों ने बिजली विभाग को जमकर कोसा. पिछले 6 महीने से बेरोजगार ग्रामीणों को 10 से 20 हज़ार के बिल मिल गए हैं. कुटीर ज्योति व छोटे उघोगों के भारी भरकम बिल ग्रामीणों के लिए मुसीबत बन गए हैं.

ग्रामीण महेश चंद्र कहते हैं कि पिछले बिल जमा करने के बाद भी बिजली विभाग ने 10 हज़ार रुपये का बिल थमा दिया और कहा जा रहा है कि इसे जमा करना ही होगा. हालात यह हैं कि एक बल्ब वाले कुटीर ज्योति कनेक्शन के बिल भी 1800 रुपये से ज़्यादा आए हैं. कुटीर ज्योति कनेक्शन धारक ललित कुमार कहते हैं कि उनका बिल 180 से 200 रुपये आता था लेकिन इस बार 1800 आया है. वह भी तब जब पिछले सभी बिलों को भरा गया है.

दरअसल लॉकडाउन में काम खत्म हो गया है. रोजगार का संकट झेल रहे ग्रामीण इस बात से परेशान हैं कि बेरोजगारी में पैसा कहां से लाएं और बिल कैसे जमा करें. गंगा देवी का कहना है कि बिजली विभाग ने उन्हें 9 हज़ार रुपये का बिल थमा दिया है. बच्चों के पास कोई काम नहीं है. मनरेगा तक में भी काम न होने से रोज़ी-रोटी पर संकट खड़ा हो गया है.

नैनीतालः बिजली विभाग के बिल से लगा 'करंट', 1 बल्ब के कनेक्शन पर 1800 तो किसी को 20000 रुपए का भेजा बिल

गांवों में कैंप लगाएगा विभाग

न्यूज़ 18 ने जनता की आवाज़ को उठाया तो बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता मोहम्मद उस्मान ने कहा कि दरअसल कई महीनों से बिजली के बिल नहीं आए थे. पिछले महीनों में बिना रिडिंग के बिल काटे गए थे. अब नई व्यवस्था में रीडिंग लेकर बिल दिए गए हैं. अगर यह अब भी ज़्यादा होंगे तो गांवों में कैंप लगाकर जाकर लोगों की समस्या का समाधान किया जाएगा.

ये भी पढ़े  उत्तराखंड सरकार की बढ़ी चिंता, अब नैनीताल जेल में 53 कैदी मिले Corona Positive

वहीं बेतालघाट के अधिवक्ता दीप रिखडी ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण काल में लोगों के सामने रोज़ी-रोटी की भी दिक्कतें हैं. इतने ज़्यादा बिल आना वाकई गलत बात है. दीप रिखडी कहते हैं कि सरकारी विभाग के खिलाफ कोर्ट जाने से पहले नोटिस देना होता है जो डीएम नैनीताल के माध्यम से दिया गया है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here