नोएडा में आवारा कुत्तों का कहर: 60 साल के बुजुर्ग को लगवाने पड़े 20 टांके

0
18


नोएडा. नोएडा-गाजियाबाद समेत एनसीआर में कुत्तों पर बनाए नियम कानून फेल हो गए हैं. आवारा कुत्तों से लेकर पालतू कुत्ते लगातार आम जनमानस को नुकसान पहुंचा रहे हैं. नोएडा में प्रशासन के साथ-साथ सोसाईटी के निवासी भी बचाव के लिए गाइडलाइन जारी कर रहे हैं, ऐसे में कुत्ते के हमले की ताजी घटना गांव सर्फाबाद में हुई है, जहां 60 साल के बुजुर्ग पर कुत्ते ने अटैक कर दिया. इस हमले में वह बुरी तरह घायल हो गए. लोगों ने निजी अस्पताल में उनको भर्ती करवाया, जहां उपचार किया गया.

डॉक्टरों ने इलाज के दौरान 20 टांके लगाए

कुत्ते के हमले में घायल बुजुर्ग इस्लाम ने बताया कि वो शनिवार की सुबह वह टहलने के लिए निकले हुए थे. इसी दौरान गांव में आवारा कुत्ते ने उनके पैर पर हमला कर दिया. इस हमले में कुत्ते ने हाथ और पैर को बुरी तरह जख्मी कर दिया है. डॉक्टरों ने इलाज के दौरान 20 टांके लगाए हैं. इस घटना के बाद गांव में रोष का माहौल है. लोगों का कहना है कि नोएडा प्राधिकरण को सेक्टरों के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों के आवारा कुत्तों पर ध्यान देना चाहिए.

इन नस्ल के कुत्तों ने सबसे ज्यादा बनाया लोगों को निशाना

दरअसल, बीते काफी दिनों से नोएडा और ग्रेटर नोएडा समेत काफी इलाकों में कुत्तों के द्वारा लोगों काटने के मामले सामने आ रहे हैं. इसकी काफी वीडियो सोशल मीडिया के जरिए सामने आई है जिनमें दिखाई दे रहा है कि कुत्ते लिफ्ट, पार्क और अन्य स्थानों पर बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक के लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं. पिछले कुछ दिनों के दौरान इसकी काफी वीडियो सोशल मीडिया के जरिए सामने आई हैं. पिछले दिनों पिटबुल और जर्मन शेफर्ड जैसी नस्ल के कुत्तों ने बुजुर्ग महिलाओं और बच्चों को निशाना बनाया है।

सोशल मीडिया पर तमाम वीडियो वायरल

कुछ दिनों पहले गाजियाबाद के राजनगर एक्सटेंशन में एक पिटबुल डॉग ने 11 साल के बच्चे का जबड़ा फाड़ दिया था. बच्चे के चेहरे पर 150 से भी ज्यादा टांके आए थे और करीब सवा लाख रुपए ऑपरेशन में खर्च हुए थे. इसके अलावा एक वीडियो काफी तेजी के साथ सोशल मीडिया पर वायरल हुआ जिसमें दिखाई दे रहा था कि एक जर्मन शेफर्ड नस्ल के डॉग ने डिलीवरी ब्वॉय के प्राइवेट पार्ट को काट दिया था.

कुत्ते मालिकों की परेशानियां बढ़ी

इन सभी मामलों के बाद नोएडा और दिल्ली समेत पूरे एनसीआर में रहने वाले लोगों के दिल में दहशत पैदा हो गई है. जहां एक तरफ ऐसी खतरनाक नस्ल के डॉग को लेकर खतरा बना हुआ है तो वही जर्मन शेफर्ड और पिटबुल जैसे डॉग मालिकों पर भी परेशानियों का पहाड़ टूटने लगा है. लोग ऐसे कुत्ते मालिकों को एक अलग नजर से देखते हैं, जिनकी वजह से ऐसी खतरनाक नस्ल के कुत्ते मालिक अपने डॉगी को लेकर परेशान हैं. पिछले कुछ दिनों के दौरान नोएडा के सेक्टर-54 में स्थित हाउस ऑफ स्ट्रे एनिमल्स एनजीओ के पास 15 अनाथ पिटबुल और जर्मन शेफर्ड नस्ल के कुत्ते आए हैं.

Tags: Uttar Pradesh News Hindi



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here