नोएडी की इस सोसाइटी की दीवारें बनी ‘काल’, शिकायत के बावजूद नहीं सुन रहा प्राधिकरण

0
47


आदित्य कुमार

नोएडा. उत्तर प्रदेश के नोएडा के सेक्टर 66 स्थित श्रमिक कुंज सोसाइटी की दीवारें शाहबेरी हादसे के जख्म को कभी दोहरा सकती हैं. सोसाइटी की दीवारें इस कदर जर्जर हो चुकी हैं कि यह कभी भी गिर सकती हैं, ऐसे में आने-जाने वालों के सिर पर मौत का साया मंडरा रहा है. मगर इससे नोएडा प्राधिकरण अंजान बना बैठा है. क्या है मामला हम आपको बताते हैं.

न्यूज़ 18 लोकल से बात करते हुए श्रमिक कुंज में रहने वाले मुमताज आलम ने कहा कि पूरी सोसाइटी में सीलन हो चुकी है. जरा सी बारिश में सोसाइटी के घरों में पानी भर जाता है. वहीं, दीवारों के बारे में पूछने पर वो बताते हैं कि यह काफी जर्जर हो गई हैं. दीवारों के बीच आई दरार में छोटे-छोटे पौधे उग आए हैं. उन्हें भी काटा नहीं जा रहा है.

कहां गये मरम्मत के ढाई करोड़ रुपये?

सोसाइटी में रहने वाले लोगों का कहना है कि दीवार की मरम्मत को लेकर कई बार पत्र लिखा गया है, लेकिन कभी इस पर सुनवाई नहीं होती. वहीं, उनका यह भी कहना है कि दीवार की मरम्मत के लिए ढाई करोड़ रुपये का बजट आया था, लेकिन दीवार की मरम्मत और विकास के बजाये सिर्फ सोसाइटी के गेट का शिलान्यास कर खानापूर्ति कर दी गई. वर्ष 2003 से इस सोसाइटी में रह रहे सियाराम यादव बताते हैं कि इमारत इतनी जर्जर हो चुकी है कि छत से पत्थर गिरते रहते हैं. आए दिन कोई न कोई घटना होती रहती है, लेकिन कोई हमारी सुनने को तैयार नहीं है.

जानिए प्राधिकरण का क्या कहना है

नोएडा प्राधिकरण के मैनेजर और जूनियर इंजीनियर (जेई) इससे बिलकुल अंजान दिखे. जेई नवीन ने इस संबंध में पूछने पर कहा कि ऐसी कोई जानकारी हमारे पास नहीं है. अगर शिकायत होगी तो काम किया जाएगा. वहीं, वर्क सर्कल पांच के मैनेजर अरविंद बताते हैं कि काम चलता रहता है. पेड़ काटने की जो बात है तो वो जिसको घर अलॉट किया गया है वही उसकी देखभाल करेगा. छत टपकना, नाली खुली रहना इसकी शिकायत मिलेगी तो कर्रवाई करेंगे.

Tags: Delhi-NCR News, Noida news, Up news in hindi



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here